शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 00:41 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
फ्रांस, आर्सेलरमित्तल में विवाद गहराया: रपट
लंदन, एजेंसी First Published:28-11-2012 10:30:17 PMLast Updated:28-11-2012 11:48:59 PM
Image Loading

फ्रांस का कहना है कि फ्लोरेंज कारखाने के लिए निवेशक तलाशने को लेकर आर्सेलरमित्तल के साथ बातचीत शनिवार तक चलेगी। हालांकि सरकार ने कंपनी आस्तियों के राष्ट्रीयकरण की चेतावनी दी है। भारतीय इस्पात उद्यमी लक्ष्मी निवास मित्तल की अगुवाई वाली आर्सेलरमित्तल फलोरेंज कारखाने में दो ब्लास्ट फरनेंसस को बंद करना चाहती है।

हालांकि फ्रांस सरकार ने नौकरियां खत्म होने की आंशका को देखते हुए कहा है कि वह आर्सेलरमित्तल के स्वामित्व वाले पूरे कारखाने का राष्ट्रीयकरण कर देगी।
द टेलीग्राफ की रपट के अनुसार फ्रांस के राष्ट्रपति फांस्वा ओलोंद ने आर्सेलरमित्तल के कारखाने का राष्ट्रीयकरण करने की चेतावनी दी है। इससे पहले उदयोग मंत्री अर्नाउद मोंटेबर्ग भी कह चुके हैं कि इस बहुराष्ट्रीय कंपनी की देश को जरूरत नहीं है। ओलोंद तथा मित्तल में कल लगभग एक घंटे बैठक हुई। लेकिन रपटों के अनुसार इसमें कोई प्रगति नहीं हुई।

राष्ट्रपति के वक्तव्य के हवाले से समाचार पत्र ने कहा है कि सरकार तथा कंपनी के बीच बातचीत शनिवार तक जारी रहेगी ताकि कारखाने के लिए नया निवेश तलाशा जा सके।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingबारिश ने धोया पहले दिन का खेल, भारत 50/2
भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को बारिश के कारण दो सत्र से अधिक का खेल नहीं हो सका जबकि भारत ने पहली पारी में दो विकेट पर 50 रन बनाए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।