शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 22:18 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
मिस्र में स्थिति बेहद तनावपूर्ण, पांच की मौत
काहिरा, एजेंसी First Published:06-12-12 10:52 PMLast Updated:07-12-12 10:12 AM

मिस्र की सेना ने गुरुवार को राष्ट्रपति भवन के बाहर टैंक तैनात कर दिए और उग्र भीड़ को इलाके को खाली करने का आदेश दिया। यह कदम इस्लामी राष्ट्रपति मोहम्मद मुरसी के समर्थकों और विरोधियों के बीच देर रात संघर्ष में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने और तकरीबन 700 लोगों के घायल होने के बाद उठाया गया।

टैंक और बख्तरबंद कारों को राष्ट्रपति भवन के बाहर तैनात किया गया। विवादास्पद संविधान के मसौदे को लेकर अशांति बढ़ने के बीच सैकड़ों मुरसी समर्थकों ने उनके पक्ष में नारेबाजी की।

मिस्र की सेना ने इसके बाद राष्ट्रपति भवन के आस-पास इलाके को खाली करने को कहा। उसने प्रदर्शनकारियों और मीडिया संगठनों को स्थान को खाली करने का आदेश दिया।

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया कि राष्ट्रपति मुरसी समर्थकों और विरोधियों के बीच देर रात हुई हिंसा में पांच लोग मारे गए और 644 अन्य घायल हुए। हिंसा आज भी जारी रही। मुरसी विरोधियों ने कई शहरों में मुस्लिम ब्रदरहुड की राजनैतिक शाखा फ्रीड़ा एंड जस्टिस पार्टी के मुख्यालयों पर हमला किया।
 
 
 
टिप्पणियाँ