शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 22:24 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो अमेरिकी विदेश विभाग में पहली बार मनी दीवाली एनआईए प्रमुख ने बर्दवान विस्फोट की जांच का जायजा लिया आईएस के आतंकवादी अब दुनिया में सबसे धनी : विशेषज्ञ
नहीं रही दुनिया की सबसे उम्रदराज महिला
अटलांटा, एजेंसी First Published:06-12-12 09:56 AM
Image Loading

दुनिया की सबसे उम्रदराज महिला के रूप में नाम दर्ज कराने वाली अमेरिकी महिला बेसी कूपर का 116 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। कूपर के बेटे सिडनी कूपर ने बताया कि मंगलवार को उनकी माँ ने अटलांटा के पास एक नर्सिंग होम में अंतिम साँस ली।

सिडनी के मुताबिक उनकी माँ को पिछले दिनों पेट की बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। तेनेसी में जन्मीं बेसी कूपर पेशे से शिक्षक थीं। मंगलवार को अस्पताल में भर्ती होने से पहले उन्होंने अपने बाल सँवारे और क्रिसमस से संबंधित एक वीडियो देखा। लेकिन उसके बाद अचानक उन्हें साँस लेने में तकलीफ हुई।

उनके बेटे सिडनी कूपर ने बताया कि उन्हें कुछ देर तक ऑक्सीजन पर रखा गया, लेकिन थोड़ी ही देर के बाद उनकी मौत हो गई। जनवरी 2011 में बेसी कूपर का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में सबसे उम्र दराज व्यक्ति के रूप में दर्ज हुआ था।

तेनेसी में पैदा हुई बेसी कूपर प्रथम विश्व युद्ध के बाद जॉर्जिया चली गई थी और फिर एक शिक्षक के तौर पर काम करने लगी थीं। गिनीज़ के अनुसार सबसे ज्यादा उम्र तक जीवित रहने वाले व्यक्ति फ्रांस के जीन कालमेट थे, जिनका 122 साल की उम्र में साल 1997 में देहांत हो गया था।
 
 
 
टिप्पणियाँ