गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 02:38 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी बलात्कार मामलों में कोई समझौता नहीं, औरत का शरीर उसके लिए मंदिर के समान होता है: सुप्रीम कोर्ट अब यूपी पुलिस 'चुड़ैल' को ढूंढेगी, जानिए क्या है पूरा मामला  खुलासा: एक रुपया तैयार करने का खर्च एक रुपये 14 पैसे दार्जिलिंग: भूस्‍खलन के कारण 38 लोगों की मौत, पीएम ने जताया शोक, 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान यूनान ने किया डिफॉल्ट, नहीं चुकाया अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष का कर्ज विकी‍पीडिया पर नेहरू को मुस्लिम बताये जाने पर भड़की कांग्रेस, पूछा अब क्या कार्रवाई करेगी मोदी सरकार PHOTO: जब मंत्रीजी ने पकड़ी लेडी डॉक्टर की कॉलर और बोले... ललित मोदी के ट्वीट पर बवाल, भाजपा नहीं करेगी वरुण गांधी का बचाव
चीन के राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे ओबामा
सोल, एजेंसी First Published:26-03-12 10:37 AM
Image Loading

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सोमवार को चीन के राष्ट्रपति हू जिंताओं से मिलेंगे। यह मुलाकात उत्तर कोरिया के मामले में ओबामा द्वारा चीन को सार्वजनिक रूप से चेतावनी देने के बाद हो रही है।
  
अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि परमाणु हथियारों से लैस उत्तर कोरिया पर अंकुश लगाने की उसकी योजना सफल नहीं हो पा रही है।
  
ओबामा और हू की यह मुलाकात परमाणु आतंकवाद के खतरे पर यहां आयोजित शिखर सम्मेलन के दौरान होने जा रही है। ऐसा समझा जाता है कि दोनों नेता अन्य मुददों के अलावा द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने के उपायों पर चर्चा करेंगे।
  
उत्तर कोरिया के अगले महीने राकेट से उपग्रह प्रक्षेपित किये जाने की चेतावनी के बीच ओबामा ने कल सोल में स्पष्ट रूप से कहा कि उत्तर कोरिया को नियंत्रित करने के मामले में चीन का रूख उपयुक्त नहीं लग रहा है। उन्होंने सुक्षाव दिया कि यह समय चीन की रणनीति में बदलाव का है।
  
अमेरिका ने बार-बार चीन से उत्तर कोरिया पर अंकुश लगाने का आग्रह करता रहा है। चीन उन गिने-चुने देशों में शामिल है जिसका उत्तर कोरिया से व्यापारिक संबंध है और साथ ही उसका अपने पड़ाेसी देश के नेताओं पर अच्छा-खासा प्रभाव है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड