मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 17:14 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
झारखंड: जमशेदपुर में एमडीएम में छिपकली गिरने से एक दर्जन बच्चे गंभीर बीमार, एमजीएम में चल रहा है इलाज।
'स्कूल में गोलीबारी बयां न कर सकने वाली त्रासदी'
न्यूयॉर्क, एजेंसी First Published:15-12-2012 10:50:16 AMLast Updated:15-12-2012 11:53:21 AM
Image Loading

अमेरिकी प्रांत कनेक्टीकट के गवर्नर डैनेल मैलॉय ने प्राथमिक स्कूल में हुई गोलीबारी को बयां न कर सकने वाली त्रासदी करार दिया है। स्थानीय मीडिया के अनुसार 24 वर्षीय रयान लांजा ने न्यूटाउन के सैंडी हूक एलीमेंटरी स्कूल में गोलीबारी की। इस हमलावर का शव भी स्कूल के भीतर से बरामद किया गया।

इस स्कूल में 600 बच्चे पढ़ते हैं और गोलीबारी में कम से कम 18 बच्चों की मौत हुई है। हमले में छह वयस्क भी मारे गए। माना जा रहा है कि हमलावर ने 100 गोलियां चलाईं। मैलॉय ने कहा कि यह ऐसी त्रासदी है जिसे बयां नहीं किया जा सकता। आप इस तरह की घटना को लेकर कभी तैयार नहीं रह सकते। इसमें हमारे कई नागरिक, प्यारे बच्चों को जान गवांनी पड़ी है।

कनेक्टीकट के पुलिस लेफ्टिनेंट पॉल वैंस ने कहा कि जांच चल रही है और न्यूटाउन के निकट एक दूसरे स्थान पर एक और व्यक्ति का शव मिला है। उन्होंने मीडिया में आई इन खबरों के बारे में जानकारी देने से इंकार कर दिया कि लांजा के भाई का शव एक अपार्टमेंट से बरामद किया गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि गोलीबारी स्कूल की दो कक्षाओं में की गई।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।