मंगलवार, 31 मार्च, 2015 | 22:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
कैबिनेट ने भूमि अधिग्रहण अध्यादेश को फिर से जारी करने की सिफारिश की : सरकारी सूत्र।यमन में फंसे करीब 4,000 भारतीयों को निकालने के लिए भारत को अंतत: अदन में अपना जहाज ले जाने की अनुमति मिली।
बचाए गए चिकित्सक की हालत अच्छी: नियोक्ता
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:12-12-12 11:20 AM
Image Loading

तालिबान के चंगुल से बचाए गए भारतीय-अमेरिकी चिकित्सक दिलीप जोसेफ की हालत अच्छी है। उन्हें अफगानिस्तान में एक सैन्य कार्रवाई के बाद तालिबान के चंगुल से मुक्त कराया गया था। हालांकि उनकी घर वापसी तक ऐहतियात के तौर पर उनकी जांच जारी रखी जाएगी।

जोसेफ की नियोक्ता कंपनी मॉर्निंग स्टार डेवलपमेंट के कार्यकारी निदेशक लार्स पीटरसन ने कहा कि मैंने अब तक उनसे बात नहीं की है, लेकिन मैंने सुना है कि वह शारीरिक रूप से ठीक हैं। पीटरसन ने कहा कि हालांकि सूचना मिली है कि उनकी हालत अच्छी है और अभियान के दौरान वह किसी भी तरह से जख्मी भी नहीं हुए, लेकिन उनके कोलाराडो स्प्रिंग्स स्थित घर पहुंचने तक ऐहतियात के तौर पर उनकी जांच जारी रखी जाएगी। संभवत: कुछ दिनों के अंदर वह घर लौट जाएंगे।

जोसेफ अफगानिस्तान में स्थानीय चिकित्साकर्मियों को प्रशिक्षण देने के काम में शामिल थे। उन्हें पांच दिसंबर को दो अन्य सदस्यों के साथ अगवा कर लिया गया था। पीटरसन ने कहा कि पूर्वी काबुल प्रांत के हमारे ग्रामीण चिकित्सा क्लिनिकों से लौट रहे तीन कर्मचारियों को कुछ हथियारबंद व्यक्तियों ने अगवा कर लिया था। फिर उन्हें पाकिस्तानी सीमा से 50 मील की दूरी पर स्थित एक पर्वतीय क्षेत्र में ले जाया गया।

जोसेफ को अमेरिकी कमांडो और अफगान सुरक्षा बलों की संयुक्त कार्रवाई में बचा लिया गया। हालांकि कार्रवाई के दौरान अमेरिकी नौसेना का एक सील कमांडो मारा गया तथा सात विद्रोही भी मारे गए थे।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें