रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 15:49 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
उत्तराखंडः डीजे लेकर कांवड़ यात्रा पर गए तो पुलिस जब्त कर लेगी साउंड सिस्टम, हरिद्वार पुलिस ने यूपी बार्डर पर चलाया डीजे और अन्य प्रतिबंधित सामान के खिलाफ अभियानहरिद्वारः कांवड़ यात्रियों से भरी तेज रफ्तार जीप पुलिस पर चढ़ाई, तीन पुलिस कर्मचारी घायल
भारत की मित्र रेबेका सोमर्स का निधन
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:14-12-2012 10:48:15 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

भारत की मित्र एवं यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल (यूएसआईबीसी) के अध्यक्ष रोन सोमर्स की पत्नी रेबेका सोमर्स का निधन हो गया है। उनके पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि 55 वर्षीय रेबेका काफी समय से स्तन कैंसर से पीड़ित थीं।

भारत के लोगों की मुखर होकर वकालत करने वाली रेबेका 1992 से 2004 तक बेंगलूर और नई दिल्ली में रहीं। वह वहां यूएसएड के एक कार्यक्रम के सिलसिले में थीं। रेबेका ने भारत प्रवास के दौरान इंदिरा नगर अनाथालय में स्वयंसेवी के रूप में काम किया और योग्य छात्रों को गुमनाम रूप से दर्जनों छात्रवृत्तियां प्रदान कर आर्थिक रूप से उनकी मदद की।

वह भारत में हमेशा युवा महिलाओं और लड़कियों के कल्याण के लिए सक्रिय रहीं। रोन सोमर्स ने कहा कि रेबेका ने भारत की उदार एवं समावेशी सभ्यता से मेरा परिचय कराया। रेबेका का जन्म 18 दिसंबर 1956 को फ्रांस में हुआ था। उन्होंने कैलीफोर्निया यूनिवर्सिटी से स्नातक की उपाधि हासिल की।

भारत के स्वतंत्र परिवेश और लोकतंत्र के प्रति उनका गहरा लगाव था। उन्होंने भारत में रहने के दौरान पंचमढ़ी में कुछ गुफाओं में चित्रकारी की, कुर्ग और कुमारकम में प्रवासी पक्षियों का अध्ययन किया। काबिनी, बांदीपुर और नगरहोल के जंगलों में उन्होंने हाथियों के झुंडों का अध्ययन किया। कावेरी और गंगा के किनारे मछली पकड़ने का लुत्फ उठाया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingशाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम जाने पर रोक हटी, MCA ने हटाया बैन
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए वाइस प्रेसीडेंट आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?