गुरुवार, 30 जुलाई, 2015 | 23:43 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ना 'पाक' हरकतों से नहीं बाज आ रहा है पाकिस्तान, फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 1 जवान शहीद देश में केवल 17 व्यक्तियों पर 2.14 लाख करोड़ का कर बकाया  2022 तक आबादी में चीन को पीछे छोड़ देगा भारत  झारखंड में दिसंबर तक होगी 40 हजार शिक्षकों की नियुक्तियां महिन्द्रा सितंबर में पेश करेगी एसयूवी टीयूवी-300  नेपाल: भारी बारिश के बाद भूस्खलन, 13 महिलाओं समेत 33 की मौत, 20 से अधिक लापता पेट्रोल-डीजल के दामों में हो सकती है कटौती, 1 रुपये 50 पैसे तक घट सकते हैं दाम नागपुर की सेंट्रल जेल में 1984 के बाद पहली बार दी गई फांसी पढ़ें 1993 में हुए सीरियल बम ब्लास्ट से अब तक का घटनाक्रम निर्दोषों को आतंकी कहा जा रहा है, मैं धमाकों का जिम्मेदार नहीं: याकूब
दिल्ली सामूहिक बलात्कार पीड़िता की हालत अभी बहुत गंभीर: अस्पताल
सिंगापुर, एजेंसी First Published:28-12-2012 11:24:04 AMLast Updated:28-12-2012 01:27:32 PM
 
संबंधित ख़बरे
Image Loading Image Loading
 

सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती होने के एक दिन बाद भी दिल्ली में सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई 23 वर्षीय छात्रा की हालत बहुत गंभीर बनी हुई है। पीड़िता की हालत कल रात जैसी ही बनी हुई है।
    
अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉक्टर केल्विन लोह ने कल रात एक बयान में कहा था कि मरीज की स्थिति बहुत गंभीर बनी हुई है। उसका माउंट एलिजाबेथ अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में इलाज चल रहा है।
    
डॉक्टर ने कहा कि यहां आने से पहले पीड़िता के पेट की तीन सर्जरी हो चुकी हैं और उसे भारत में दिल का दौरा भी पड़ चुका है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों का एक दल उस पर नजर बनाए हुए है और उसकी स्थिति को स्थिर बनाए रखने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहा है।
    
अस्पताल में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और आईसीयू में प्रवेश देने से पहले हर व्यक्ति की जांच की जा रही है। इस बीच, द स्ट्रेटस टाइम्स ने आज खबर दी कि पीड़ित लड़की का परिवार मानसिक पीड़ा झेल रहा है लेकिन वे कई लोगों के शुक्रगुजार हैं।
    
खबर में पीड़िता के पिता और उसके दो भाइयों से मिलने वाले एक सूत्र के हवाले से कहा गया कि पिता का कहना है कि उन्हें फिर से आश्वासन दिया गया है कि उनकी बेटी के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास किये जा रहे हैं और बाकी सब भगवान के हाथों में है। छात्रा के पिता इलाज और यात्रा सुविधा के लिए भारत सरकार और सिंगापुर के एहसानमंद हैं।
    
अखबार ने एक सूत्र के हवाले से कहा कि बलात्कार के सदमे के अलावा उन्हें (परिवार) इस विचार का आदी होना होगा कि वे अब विदेशी धरती पर हैं। सूत्र ने कहा कि परिजन आम लोग हैं, जिन्होंने कभी विमान में सवार होने या एयर एंबुलेंस में विदेश यात्रा करने का सपना नहीं देखा था।
    
परिजन अंग्रेजी नहीं बोल पाते हैं और अस्पताल के कर्मचारियों से बात करने के लिए वे दुभाषिये पर निर्भर हैं। भारतीय उच्चायोग ने मदद के लिए परिवार के साथ एक अधिकारी नियुक्त किया है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingपे टीएम ने बीसीसीआई से 2019 तक प्रायोजन अधिकार खरीदे
पे टीएम के मालिक वन97 कम्युनिकेशंस ने आज भारत में अगले चार साल तक होने वाले घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के अधिकार 203.28 करोड़ रूप में खरीद लिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड