मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 11:28 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बिना सब्सिडी वाला रसोई गैस का सिलेंडर 25 रुपये 50 पैसे सस्ता हुआ।उत्तर प्रदेश: अमरोहा में शहजादपुर के जंगल में तेंदुआ होने की अफवाह पर फैली दहशत, कल शाम ग्रामीण द्वारा जंगल में देखा गया जंगली जानवर, सुबह खेतों में गए ग्रामीणों को मिले पंजों के निशान।
गैंगरेप पीड़िता के मस्तिष्क में गंभीर चोट, डॉक्टर परेशान
सिंगापुर, एजेंसी First Published:28-12-2012 01:05:57 PMLast Updated:28-12-2012 01:41:21 PM
Image Loading

दिल्ली में सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता के मस्तिष्क में गम्भीर चोट है और उसकी हालत अब भी बेहद नाजुक बनी हुई है। वह इस वक्त सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में भर्ती है।

समाचार पत्र 'स्ट्रेट्स टाइम्स' ने अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केल्विन लोह के हवाले से बताया कि पूर्व में दिल का दौरा पड़ने के अलावा लड़की फेफड़े और पेट के संक्रमण से पीड़ित है। इसके साथ-साथ उसके मस्तिष्क में भी गम्भीर चोट है।

उन्होंने कहा कि मरीज इस वक्त मुश्किलों से जूझ रही है और जीवन के लिए संघर्ष कर रही है। लोह ने बताया कि चिकित्सकों की टीम गुरुवार को लड़की के यहां पहुंचने के बाद से उसके इलाज में लगी हुई है। चिकित्सक अगले कुछ दिनों में लड़की की हालत स्थिर करने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं।

ज्ञात हो कि 23 वर्षीय पीड़िता के साथ गत 16 दिसम्बर को दिल्ली में छह लोगों ने चलती बस में बलात्कार किया और बेरहमी से पीटा था। वह इस वक्त कई तरह के संक्रमणों से पीड़ित है।

इस घटना के विरोध में देशभर में विद्यार्थी और अन्य लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं और अपराधियों को मौत की सजा देने की मांग पर अड़े हुए हैं। सभी छह आरोपी इस वक्त पुलिस गिरफ्त में हैं।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingद्रविड़ ने कहा, मेरी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं है: पुजारा
लगभग दो साल बाद अपना पहला टेस्ट शतक जमाने के बाद राहत महसूस कर रहे भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आज भारत ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ का आभार व्यक्त किया जिन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं थी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।