Image Loading junior teachers warned to government to fill the jail - LiveHindustan.com
मंगलवार, 27 सितम्बर, 2016 | 12:31 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • दिल्लीः कॉरपोरेट मंत्रालय के पूर्व डीजी बी के बंसल ने बेटे के साथ की खुदकुशी,...
  • मामूली बढ़त के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स 78.74 अंको की तेजी के साथ 28,373 और निफ्टी...
  • US Election Debate: ट्रंप की योजनाएं अमेरिका की अर्थव्यव्स्था के लिए ठीक नहीं, हमें सब के...
  • हावड़ा से दिल्ली की ओर जा रही मालगाड़ी पटरी से उतरी, सुबह की घटना, अभी रेल यातायात...
  • क्रिकेटर बालाजी 'रजनीकांत' के फैन हैं, आज बर्थडे है उनका। उनकी जिंदगी से जुड़े...

जूनियर शिक्षकों ने दी जेल भरने की चेतावनी

देहरादून, वरिष्ठ संवाददाता First Published:23-09-2016 01:09:54 PMLast Updated:23-09-2016 01:09:54 PM
जूनियर शिक्षकों ने दी जेल भरने की चेतावनी

जूनियर हाईस्कूल शिक्षकों ने गुरुवार को शिक्षा निदेशालय पर धरना दिया। उन्होंने सरकार पर राज्य की शिक्षा व्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया। शिक्षकों ने राज्य में जल्द त्रिस्तरीय कैडर व्यवस्था लागू करने की मांग की। ऐसा न होने पर 29 सितम्बर को सीएम आवास कूच और जेल भरो आंदोलन की चेतावनी दी।

पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के शिक्षक गुरुवार को बड़ी संख्या में शिक्षा निदेशालय पहुंचे। शिक्षकों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चौहान ने कहा कि राज्य की शिक्षा व्यवस्था को चौपट करने के पीछे सबसे बड़ा हाथ राज्य सरकार का है। शिक्षक कई सालों से राज्य में त्रिस्तरीय कैडर व्यवस्था लागू करने की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार गंभीर नहीं है। जबकि इससे सरकार के सालाना 250 करोड़ बचेंगे। उन्होंने कहा कि यदि 26 और 27 सितम्बर को तीनों शिक्षक संगठनों की कार्यशाला में त्रिस्तरीय कैडर पर निर्णय नहीं हुआ तो जूनियर शिक्षक 29 सितम्बर को आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। संगठन के प्रदेश महामंत्री डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि जूनियर शिक्षक अपनी 21 सूत्रीय मांगों को लेकर लम्बे समय से आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन सरकार शिक्षकों को गंभीरता से नहीं ले रही। धरना प्रदर्शन के दौरान मीडिया प्रभारी उमेश चौहान, उपाध्यक्ष कल्पना बिष्ट, दलेव सिंह राणा, दिनेश असवाल, रघुबीर सिंह, राजेंद्र बहुगुणा, अनंत सोलंकी, जगमोहन रावत, महेश गिरी सहित अनेक शिक्षक मौजूद थे।

अवकाश के दिन भी पढ़ाएंगे शिक्षक
राजकीय शिक्षक संघ ने 12 से 18 सितम्बर तक हड़ताल की वजह से बच्चों की पढ़ाई को हुए नुकसान को देखते हुए अवकाश के दिनों में इसकी भरपाई का निर्णय लिया है। राजकीय शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष राम सिंह चौहान एवं प्रांतीय महामंत्री डॉ. सोहन सिंह माजिला ने इस संदर्भ में अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। राजकीय शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष राम सिंह चौहान ने कहा कि हड़ताल की वजह से राज्य के माध्यमिक स्कूलों में पढ़ाई प्रभावित हुई। इसे देखते हुए अब इसकी भरपाई का निर्णय लिया गया है। राज्यभर के माध्यमिक शिक्षक अवकाश के दिन बच्चों को पढ़ाकर इसकी भरपाई करेंगे। वहीं राजकीय शिक्षक संघ की वेतन संबंधी तीन प्रमुख मांगों पर शुक्रवार को वेतन विसंगति समिति सुनवाई करेगी। राजकीय शिक्षक संघ के प्रांतीय महामंत्री डॉ. सोहन सिंह माजिला ने बताया कि वेतन विसंगति समिति ने शुक्रवार को माध्यमिक शिक्षकों को सुनवाई के लिए बुलाया है।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: junior teachers warned to government to fill the jail
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड