class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक्शन में Yogi: अफसरों को दिलाई ईमानदारी की शपथ, पढ़ें 5 बड़े फैसले

एक्शन में Yogi: अफसरों को दिलाई ईमानदारी की शपथ, पढ़ें 5 बड़े फैसले

1/3 एक्शन में Yogi: अफसरों को दिलाई ईमानदारी की शपथ, पढ़ें 5 बड़े फैसले

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के एक दिन बाद आदित्यनाथ योगी फुल फॉर्म में नजर आ रहे हैं। सीएम बनने के बाद पहले दिन उन्होंने कई बैठक बुलाई। यूपी में मंत्रिमंडल का बंटवारा भले अभी ना हुआ हो लेकिन सरकार ने 100 दिन के अजेंडे पर काम शुरू कर दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्रियों के बाद सरकारी अधिकारियों को भी अपनी आमदनी व चल अचल सम्पत्ति का ब्यौरा 15 दिन में  देने को कहा है। उन्होंने सभी अफसरों को खड़ा करके ईमानदारी, पारदर्शिता और स्वच्छता की शपथ दिलाई। साथ ही सूबे को गुंडाराज से मुक्त कर पांच साल में अग्रणी प्रदेश बनाने को कहा।

निगमों के 100 अध्यक्ष और सलाहकार बर्खास्त 

वहीं योगी सरकार ने सोमवार को अपनी सरकार पहला बड़ा राजनैतिक फैसला किया है। सरकार ने पिछली  सपा सरकार में नियुक्त किए गए सभी विभागों, निगमों, सार्वजनिक निगमों, परिषदों और समितियों आदि में तैनात सभी गैर सरकारी सलाहकारों,अध्यक्षों, उपाध्यक्षों एवं सदस्यों की सेवाएं तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी हैं। करीब सौ सपा नेता इन पदों पर नियुक्त किए गए थे।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने सोमवार देर शाम इस आशय के आदेश भी जारी कर दिए।

सोमवार देर शाम मुख्‍य सचिव राहुल भटनागर की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि तत्‍कालीन सरकार में सार्वजनिक निगमों, परिषदों और समितियों आदि में नियुक्‍त सभी कार्यरत गैर सरकारी सलाहकार, अध्‍यक्षों, उपाध्‍यक्षों और सलाहकारों की सेवाओं को तत्‍काल प्रभाव से समाप्‍त कर उन्‍हें कार्यमुक्‍त किया जाता है।  

इलाहाबाद में दो बूचड़खाने बंद

योगी सरकार ने आज फैसला लेते हुए बूचड़खानों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है। इलाहाबाद नगर निगम के अधिकारियों ने दो बूचड़खानों को सील कर दिया है। यह कार्रवाई अधिकारियों  ने राज्य में नई सरकार बनने के अगले ही दिन ही सोमवार को की। आपको बता दें  कि बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कई रैलियों में ऐलान किया था कि सरकार बनने के बाद अवैध बूचड़खाने बंद कर दिए जाएंगे।

डीजीपी को तनाव फैलाने वालों पर कार्रवाई करने का आदेश

सीएम ने डीजीपी से भी मुलाकात की और इस दोनों भी दोनों डिप्टी सीएम भी मौजूद थे। इस बैठक में डीजीपी को आदेश दिया है कि तनाव फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। वहीं डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा है कि सरकार पांच साल एक्शन में रहेगी, जवाबदेही और पारदर्शी रहेगी। 

ये भी पढ़ेंः गोरखपुर से आए पंडित ने की CM आवास की पूजा,बनाया स्वास्तिक

ये भी पढ़ेंः यूपी के नए CM योगी आदित्यनाथ के बारे में ये 8 चीजें जरूर जानें

 

अगली स्लाइड में पढ़ें मंत्री के बाद सीएम आदित्यनाथ ने किसे संपत्ति का ब्यौरा देने को कहा

Next
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:two slaughterhouses sealed in uttar pradeshs allahabad by nagar nigam authorities