class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीजीआई संविदाकर्मियों की नौकरी बची रहेगी

पीजीआई में पहले से संविदा पर काम कर रहे लैब और एक्स-रे टेक्नीशियन, फार्मासिस्ट, आई असिस्टेंट सहित सभी कर्मचारियों को नए संविदा में समायोजित किया जाएगा। पुराने कर्मचारियों को नए संविदा में समायोजित न किए जाने से नाराज संस्थान के करीब 40 कर्मचारियों ने पीजीआई निदेशक डॉ. राकेश कपूर का घेराव किया। डॉ. कपूर की मौजूदगी आउटसोर्सिंग एजेंसी के साथ हुई वार्ता में सहमति बनी कि पहले से काम कर रहे इन कर्मचारियों के काम से यदि उस विभाग के प्रमुख संतुष्ट हैं। तो ऐसे सभी बाहर किए कर्मचारियों को नई एजेंसी के तहत समायोजित किया जाएगा।

संस्थान में अभी तक इन पदों पर काम के लिए कोई एजेंसी नही थी। संस्थान में पहली बार कुशल पैरामेडिकल वर्कर के चयन के लिए आउटसोर्सिंग की गयी। यह काम जीम नामक एजेंसी को मिला है।

एजेंसी ने भर्ती के लिए बीएससी के साथ डिप्लोमा की योग्यता रखी थी। जिसके तहत कई कर्मचारी जो दोनों योग्यताएं नहीं रखते थे। उन्हें एजेंसी ने लेने से मना कर दिया था। इससे नाराज संविदा कर्मचारी एजेंसी के खिलाफत करते हुए मंगलवार को निदेशक के पास पहुंचे। निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने आनन फानन संस्थान के सीएमएस डॉ. अमित अग्रवाल, आउट सोर्सिग इंचार्ज डॉ. एसके अग्रवाल, एमएस डॉ. सुशील गुप्ता, संयुक्त निदेशक प्रशासन डॉ. उत्तम सिंह समेत कई अधिकारयों के साथ बैठक की। जिसमें तय किया गया कि एजेंसी अनुभव को देखते हुए योग्यता में कुछ रियायत बरते। जिसको लेकर एजेंसी भी तैयार हो गई। जिसके बाद कर्मचारियों ने राहत की सांस ली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pgc contract workers will remain job
From around the web