class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सावधानः वाट्सएप ग्रुपों से फैली अफवाह तो ग्रुप एडमिन पर भी एफआईआर

सावधानः वाट्सएप ग्रुपों से फैली अफवाह तो ग्रुप एडमिन पर भी एफआईआर

भ्रामक खबरों और अफवाहों पर लगाम कसने के लिए वाराणसी के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एक संयुक्त आदेश जारी कर हिदायत दी है कि सोशल मीडिया और वाट्सऐप पर किसी भी अफवाह, गलत तथ्यों से भरी या समाजिक समरसता के विरुद्ध पोस्ट पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति के साथ ही ग्रुप एडमिन पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्रा और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नितिन तिवारी द्वारा संयुक्त रूप से जारी आदेश में कहा गया है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता अत्यंत महत्वपूर्ण है तथा सोशल मीडिया पर स्वतंत्रता के साथ ही जिम्मेदारी भी आवश्यक है। 

आदेश में कहा गया है कि एडमिन वही बने जो उस ग्रुप की पूरी जिम्मेदारी उठाने में समर्थ हो और गु्रप के सभी सदस्यों से परिचित हो। कोई सदस्य गलत बयानी, बिना पुष्टि के समाचार जो अफवाह बन जाए, पोस्ट करता है तो एडमिन खंडन के साथ ऐसे सदस्य को फौरन ग्रुप से हटाए। 

सबसे तेजः 4जी डाउनलोड स्पीड में रिलायंस जियो शीर्ष पर- ट्राई रपट

अफवाह भ्रामक तथ्य व सामाजिक समरसता के विरुद्ध पोस्ट होने पर फौरन सम्बधित थाने को सूचित करे। ग्रुप एडमिन के कार्रवाई न करने पर उन्हें भी इसका दोषी माना जाएगा और उन्के विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। ऐसे मामलों में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

OMG: प्रेग्नेंसी में शूट किया रेप सीन, शूटिंग पर हुई उल्टियां
 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:offensive whatsapp posts can land group admin in jail
From around the web