Image Loading flood victim blocked basti state highway - LiveHindustan.com
शनिवार, 01 अक्टूबर, 2016 | 10:25 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • KOLKATA TEST: भारत को लगा आठवां झटका, जडेजा लौटे पवेलियन
  • KOLKATA TEST: भारत-न्यूजीलैंड के बीच दूसरे दिन का खेल शुरू
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-NCR में आज गर्मी रहेगी। पटना, रांची और लखनऊ में मौसम साफ रहेगा।...
  • इस नवरात्रि आपको क्या होगा लाभ और कितनी होगी तरक्की, अपना राशिफल पढ़ने के लिए...
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान की ओर से अखनूर सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन, सुबह 4 बजे...
  • नवरात्रि: आज होगी मां शैलपुत्री की पूजा, जानिए आरती और पूजन विधि-विधान
  • सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देशभर में हाई अलर्ट, नीतीश सरकार को बड़ा झटका,...

कटान पीड़ितों ने पीलीभीत-बस्ती हाईवे को सिसैया चौराहा पर कर दिया जाम

धौरहरा/ईसानगर/ सिसैया-खीरी। हिन्दुस्तान संवाद First Published:23-09-2016 11:32:43 PMLast Updated:23-09-2016 11:32:43 PM
कटान पीड़ितों ने पीलीभीत-बस्ती हाईवे को सिसैया चौराहा पर कर दिया जाम

बाढ़-कटान की आपदा और प्रशासनिक अनदेखी से कई गांवों के पीड़ितों का सब्र शुक्रवार को टूट गया। कटान रोकने और मुआवजा की मांग कई बार आला अफसरों से कर चुके पीड़ित शुक्रवार को सड़कों पर उतर आए। सिसैया चौराहा पर एकत्र होकर पांच घंटे तक पीलीभीत-बस्ती स्टेट हाई-वे जाम दिया। पांच घंटे से ज्यादा समय तक जाम में हजारों यात्री फंस गए। पीड़ितों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। एसडीएम और सीओ से कई बार वार्ता के बाद एसडीएम आलोक वर्मा के आश्वासन पर पीड़ितों ने जाम खोला। सुरक्षा को लेकर ईसानगर और धौरहरा कोतवाली का पुलिस फोर्स मौजूद रहा।

धौरहरा तहसील में घाघरा नदी करीब आधा दर्जन गांवों का वजूद खत्म कर चुकी है। पीड़ित इससे पहले कई बार जिला मुख्यालय पर आला अधिकारियों को ज्ञापन देकर तटबन्ध को पक्का कराने, कटान रोकने के स्थाई बंदोबस्त करने, कटान प्रभावित परिवारों को पुनर्वास और मुआवजा देने की मांग कर चुके हैं लेकिन प्रशासन हर बाद आश्वासन देकर चलता कर दिया। सिसैया चौराहा पर सुबह से ही रुद्रपुर, नारीबेहड़, हटवा, सरैया, भदईपुरवा आदि के पीड़ित पहुंचने लगे। दस बजे तक सैकड़ों लोग पहुंच गए। महिलाएं भी शामिल रहीं। सिसैया चौराहा पर बीच रोड पर बैठकर जाम लगा दिया। बहराइच से आने वाले वाहनों की लम्बी कतारे लग गईं। वहीं लखीमपुर से जाने वाले वाहनों की भी जाम लग गई।

प्रदर्शनकारियों ने सिसैया चौराहे पर पूरी सड़क पर ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर हाइवे बन्द कर दिया। प्रदर्शनकारी मौके पर डीएम को बुलाने पर अड़े रहे। कई बार एसडीएम से वार्ता हुई पर बात नहीं बनी। इस दौरान भाजपा नेता विनोद धौरहरा भी पहुंच गए। दोपहर दो बजे तक इंतज़ार करने के बाद एसडीएम ने प्रदर्शनकारियों से फिर से वार्ता शुरू की। इस बीच सीओ धौरहरा हरिराम वर्मा, कोतवाल धौरहरा दिनेश चंद्र मिश्रा और एसओ ईसानगर शिवानंद यादव भारी फ़ोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। बाद में एसडीएम ने तीन दिनों में राहत काम शुरू कराने का आश्वासन दिया तब प्रदर्शनकारी माने। साथ ही चेतावनी दी कि अगर तीन दिन में काम शुरू न हुआ तो वह फिर आन्दोलन करेंगे। जाम खुलने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली।

बारिश में भी डटे रहे प्रदर्शनकारी
सिसैया चौराहा पर जाम के दौरान अचानक तेज से बारिश हो गई। झमाझम बारिश से सभी भीग गए। लेकिन इसके बाद भी डटे रहे। प्रशासन और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाएंगी नहीं हटेंगे चाहे जितना पानी बरसे।

रूट डायवर्जन से भी नहीं बनी बात
सिसैया चौराहा पर जाम से बहराइच आने वाले वाहनों की लम्बी कतारें लग गईं। तहसील प्रशासन ने घाघरा पुल पर ही बहराइच से आने वाले वाहनों को रोक दिया। वहीं लखीमपुर से कटौली और ईसानगर जाने वाले वाहनों को बसढ़िया चौराहा से खमरिया की ओर मोड़ दिया गया। इसके बाद भी सैकड़ों वाहनों की कतारें दोनों तरफ लगी रहीं।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: flood victim blocked basti state highway
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड