class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोरखनाथ मंदिर को CM योगी का इंतजार, जुटी है भक्तों की भीड़

गोरखनाथ मंदिर को CM योगी का इंतजार, जुटी है भक्तों की भीड़

गोरखनाथ मंदिर में सीएम योगी आदित्यनाथ के इंतजार में सुबह से भक्तों की भीड़ जुटी है। एक-दूसरे को मिठाइयां खिलाने और अबीर-गुलाल लगाकर बधाई देने का सिलसिला पिछले तीन दिन से चल रहा है। बीच-बीच में ढोल-नगाड़े पर डांस करके कार्यकर्ता अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं।

लखनऊ में मुख्यमंत्री के 5 कालीदास मार्ग स्थित सरकारी आवास में गृहप्रवेश और शाम को प्रमुख अधिकारियों के साथ बैठक के बाद योगी गोरखपुर आ सकते हैं। वह यहां गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में पूजा-अर्चना के बाद अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों को सम्बोधित करेंगे। लोगों को उम्मीद है कि मुख्यमंत्री के रूप में पहली बार गोरखपुर आ रहे योगी पूर्वांचल के विकास का खाका पेश करेंगे।

उनके मुख्यमंत्री चुने जाने के बाद से ही गोरखनाथ मंदिर का माहौल बदल गया है। मंदिर परिसर और आसपास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सीएम सिक्योरिटी भी मंदिर पहुंच चुकी है। मंदिर के आवासीय परिसर की ओर लोगों की बेरोकटोक आवाजाही नहीं हो पा रही है।

आजीवन गोरक्ष पीठाधीश्वर रहेंगे योगी

गोरक्षपीठ की परम्परा के मुताबिक योगी आदित्यनाथ आजीवन गोरक्षपीठाधीश्वर रहेंगे। गोरक्षपीठाधीश्वर अपने जीवन काल में अपनी रुचि के अनुसार हर तरह से योग्य एक ही शिष्य को दीक्षित करते हैं। वही शिष्य गोरक्षपीठ का उत्तराधिकारी होता है जो गोरक्षपीठाधीश्वर के ब्रह्मलीन होने के बाद उनका स्थान लेता है। योगी ने फिलहाल अपने किसी शिष्य का नाम सार्वजनिक नहीं किया है।

पढ़ें, गोरखपुर मंदिर और उनके महंतों का इतिहास पढ़ें यहां

यूपी के नए CM योगी आदित्यनाथ के बारे में ये 8 चीजें जरूर जानें

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Public is waiting for Yogi in Gorakhnath temple