class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुलतानपुर के मिश्रौली गांव में दंपति की हत्या

सुलतानपुर के मिश्रौली गांव में दंपति की हत्या

गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के मिश्रौली गांव में शनिवार की रात एक दंपति की हत्या कर दी गई। घटना स्थल पर सुसाइट लेटर भी मिला है। उससे इस बात को बल मिल रहा है किगहरी साजिश में दोनों को मौत के घाट उतारा गया है । पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर तफ्तीश शुरू कर दी है। मामला संदिग्ध बना है।

धीरज प्रजापति(22)बीते शानिवार को छोटे भाई के साथ पत्नी के साथ बिजेथुआ महाबीरन दर्शन करने गया था। वहां से पति-पत्नी घर लौट आए। मगर, भाई वहीं किसी रिश्तेदार के यहां रुक गया। रात दो बजे गांव में गोहर लगी की धीरज और उसकी पत्नी की हत्या हो गई।

वारदात स्थल पर पहुंचे लोगों ने देखा घर के कमरे में एक ओर पत्नी की लाश पड़ी थी। उसकी गला रेतकर हत्या की गयी थी। वहीं पति धीरज की मौत जलने से हुई थी। शव से करोसिन के तेल की गंध आ रही थी। दोनों शव व वारदात स्थल देख कर कयास लगाया जा रहा था कि घटना रात 11 बजे के आस-पास की है। धीरज का पिता बरसाती थोड़ी दूर स्थित ट्यूबवेल पर सोने गया था। उसका बाबा बहरेपन का शिकार है। मां अर्ध विक्षिप्त बताई जाती है।

पुलिस को शव के पास पत्र मिला जिसमे तंत्र-मंत्र का जिक्र था। पत्र में कहा गया था कि वह काली माता और भगवान शंकर को बलि दे रहे हैं। फ़िलहाल वारदात का कोई चश्मदीद अभी तक सामने नही आया है। ग्रामीणों ने बताया कि अमूमन बलि शीश/जुबान काटकर या फिर दफन करके दिया जाता है। फंदे पे झूलकर या आग लगा कर नही दी जाती । मामला संदिग्ध है।

धीरज के करीबी मित्रों ने भी बताया कि वह तंत्र-मंत्र में विश्वास नही करता था। सीओ जितेंद्र सिंह ने बताया कि पति-पत्नी के शव को कब्जे में ले लिया है, वह इसे आत्महत्या मान कर चल रहे है। कहा कि धीरज ने हथियार से पत्नी का गला काटा फिर मिट्टी का तेल डालकर आत्महत्या कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Couple killed in Sultanpur village