class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या में राममंदिर मंदिर निर्माण की बाधा हो दूर: नृत्यगोपाल दास

अयोध्या में राममंदिर मंदिर निर्माण की बाधा हो दूर: नृत्यगोपाल दास

श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष और मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास ने योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि अयोध्या में बहुप्रतीक्षित मंदिर निमार्ण की बाधाओं को दूर करने में प्रदेश सरकार अवश्य सफल होगी।

दास ने कहा कि समाज और राष्ट्र के प्रति समर्पण, राज्य के विकास के साथ ही प्रदेश की जनता की भलाई तथा मंदिर निर्माण की बाधाओं को दूर करने में सरकार की अहम भूमिका रहेगी। उन्होंने कहा कि जो राम के साथ है उसकी विजय भी सुनिश्चित है। योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शन में प्रदेश में बनने वाली सरकार विकास के साथ ही रामराज्य की परिकल्पना को अवश्य साकार करेगी।

मोहसिन योगी टीम का मुस्लिम चेहरा, राजनाथ के बेटे को नहीं मिली जगह

श्रीरामजन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य डॉ. रामविलास दास वेदान्ती ने भी गोरक्षापीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता ने निर्णय देर में लिया लेकिन दुरुस्त लिया है। अब अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण की बाधाओं को दूर करने में यह सरकार सफलता प्राप्त करेगी, साथ ही साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के घोषणा पत्र को लागू कर सम्पूर्ण राज्य को विकसित करने का कीर्तिमान बनाएगी।

श्रीरामजन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य एवं दिगम्बर अखाड़ा के महन्त सुरेश दास ने कहा है कि कई वषोर्ं बाद उत्तर प्रदेश की जनता ने जुझारू व्यक्तित्व के धनी रहने वाले योगी आदित्यनाथ जैसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री के रूप में पाया है। उन्होंने कहा कि विवादित श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला के मंदिर के निमार्ण का मार्ग निश्चित ही अब प्रशस्त हो जायेगा क्योंकि अब केन्द्र और प्रदेश में भाजपा की सरकार है और काफी दिनों से देश की जनता मंदिर निमार्ण की बात कर रही है। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण संत समाज तथा राष्ट्रप्रेमी जनता उनके मनोनयन से प्रसन्न है।     

योगी आदित्यनाथ के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से मंदिर आंदोलन के समर्थकों में उल्लास है। विश्व हिन्दू परिषद मुख्यालय (विहिप) कारसेवकपुरम एवं अयोध्या के विभिन्न मंदिरों में खुशी का माहौल छाया हुआ है। लोग ढोल, नगाड़ा बजा करके अपने खुशी का इजहार कर रहे हैं। साथ ही साथ पटाखे भी दगाये जा रहे हैं।

विश्व हिन्दू परिषद के प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शमार् ने कहा कि  योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनने के बाद अयोध्या में स्थित श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला को मत्था टेककर संत-धमार्चार्यों का आशीर्वाद प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ के साथ केशव प्रसाद और डॉ. दिनेश शर्मा भी योग्य हैं। उनके मार्गदर्शन में प्रदेश उन्नति करेगा।

उन्होंने कहा कि धर्म, संस्कृति और समाज के उत्थान के साथ-साथ यह सरकार अयोध्या समेत सम्पूर्ण राज्य की धार्मिक नगरियों को विश्व के मानचित्र पर विकसित करेगी और मंदिर निर्माण में आने वाली बाधाओं को वह दूर करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में रामराज्य की स्थापना से ही सभी लक्ष्य पूर्ण होंगे।

योगी कैबिनेट की पहली बैठक आज, किसानों का कर्ज हो सकता है माफ

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ayodhya ram mandir temple construction hurdle away nrityagopal das