Image Loading companies salary - Hindustan
मंगलवार, 28 मार्च, 2017 | 21:25 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • धर्म नक्षत्र: पढ़ें आस्था, नवरात्रि, ज्योतिष, वास्तु से जुड़ी 10 बड़ी खबरें
  • अमेरिका के व्हाइट हाउस में संदिग्ध बैग मिलाः मीडिया रिपोर्ट्स
  • फीफा ने लियोनल मैस्सी को मैच अधिकारी का अपमान करने पर अगले चार वर्ल्ड कप...
  • बॉलीवुड मसाला: अरबाज के सवाल पर मलाइका को आया गुस्सा, यहां पढ़ें, बॉलीवुड की 10...
  • बडगाम मुठभेड़: CRPF के 23 और राष्ट्रीय राइफल्स का एक जवान पत्थरबाजी के दौरान हुआ घाय
  • हिन्दुस्तान Jobs: बिहार इंडस्ट्रियल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी में हो रही हैं...
  • राज्यों की खबरें : पढ़ें, दिनभर की 10 प्रमुख खबरें
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े देश की अब तक की बड़ी खबरें
  • यूपी: लखनऊ सचिवालय के बापू भवन की पहली मंजिल में लगी आग।
  • पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी को हार्ट में तकलीफ के बाद लखनऊ के अस्पताल...

अप्रेजल मीटिंग में न करें ये गलतियां

अभिषेक नागर First Published:16-03-2017 12:25:24 AMLast Updated:16-03-2017 12:25:24 AM

इन दिनों आप अप्रेजल में शामिल होने की तैयारी कर रहे होंगे। आपने साल भर अच्छा काम किया, लेकिन अब अप्रेजल की तैयारी में कमी आपकी रेटिंग को प्रभावित कर सकती है।

पहले समझें अप्रेजल
यह असल में कंपनियों की अपनी और अपने कर्मचारियों की प्रगति को जांचने का एक पैमाना है। हर कंपनी में अप्रेजल का अपना तरीका होता है। कुछ कंपनियां साल में एक बार अप्रेजल करती हैं, तो कुछ हर तीन माह या छह माह में अपने कर्मचारियों के काम का मूल्यांकन करती हैं। कहीं-कहीं अप्रेजल प्रक्रिया में कर्मचारी भी शामिल होते हैं। उनसे फॉर्म भरवाए जाते हैं, तो छोटी फर्म में सुपरवाइजर व वरिष्ठ अधिकारी ही स्वयं फैसले ले लेते हैं। आपकी रेटिंग के साथ बजट को ध्यान में रखकर सैलेरी में इंक्रिमेंट किया जाता है।

अप्रेजल मीटिंग में क्या न करें
- कर्मियों को लेकर भावुक न हों
- समस्या के समाधान और संभावनाओं पर बात करें।
- बहस न करें
- अपनी कमियों को लेकर शिकायत करने से आपकी नकारात्मक छवि बनती है।
- सही वजह पर ध्यान दें- बॉस पर पक्षपात करने का आरोप न मढ़ें। अपने कार्य पर ध्यान दें।
- दूसरों पर आरोप न मढ़ें- गलती हुई है तो मानें। आरोप मढ़ने से सिर्फ कमियां दिखती हैं।

अप्रेजल को कैसे बनाएं बेहतर
- अपना महत्व समझाएं- अप्रेजल फॉर्म में कहानी न लिखें। अपने अप्रेजल फॉर्म पर अपने नये आइडियाज के डेटा प्वॉइंट शामिल करें। आंकड़े और मेल से अपनी बात को पुष्ट करें।
- बॉस से सलाह करें- अगर आप अप्रेजल फॉर्म के किसी सवाल को लेकर स्पष्ट नहीं हैं तो बॉस से बात करें।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: companies salary
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
संबंधित ख़बरें