class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड के रेशम कारीगरों को मिलेगा बाजार

झारखंड के रेशम कारीगरों को मिलेगा बाजार

झारखंड के तसर सिल्क और इससे तैयार उत्पादों को अब अंतर्राष्ट्रीय बाजार मिलेगा। इसके लिए झारक्राफ्ट ने फैशन डिजाइन काउंसिल ऑफ इंडिया से समझौता किया है। इसके तहत काउंसिल झारखंड के सिल्क उत्पादों को बेहतर बनाने में मदद करेगा।

इसके अलावा नामी फैशन डिजाइनर भी झारखंड के कारीगरों की ओर से निर्मित उत्पादों को प्रदर्शित करेंगे। यह जानकारी नई दिल्ली में आयोजित अमेजन इंडिया फैशन वीक के मौके पर झारक्राफ्ट के प्रबंध निदेशक के रविकुमार ने दी। अमेजन इंडिया फैशन वीक में झारक्राफ्ट के उत्पादों को भी भारी समर्थन मिल रहा है।

झारखंड में तैयार रेशम के उत्पादों को टॉप मॉडलों द्वारा फैशन वीक के मंच से प्रदर्शित किया गया। प्रमुख परिधान डिजाइनरों रीना ढाका, शाइना एनसी, श्रुति संचेती, दिव्या और अंबिका जैन ने भी इसकी प्रशंसा की। झारक्राफ्ट के प्रबंध निदेशक के रवि कुमार ने कहा कि ये रेशम आदिवासी कला और शिल्प के गहरे दर्शन के दिखाते हैं। राज्य के कारीगरों ने हाल के वर्षों में रेशम की पैदावार को बढ़ाया है और अपने हुनर में भी निखार लाया है। ऐसे आयोजनों से जुड़कर हम खादी को अंतर्राष्ट्रीय बाजार से जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:silk worker of jharkhand get market