Image Loading friends hatched up by abduction in Koderma - LiveHindustan.com
शुक्रवार, 30 सितम्बर, 2016 | 20:38 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • श्रीलंका ने भी किया सार्क सम्मेलन का बहिष्कार, इस्लामाबाद में होना था सार्क...
  • पाकिस्तानी कलाकारों पर बोले सलमान, कलाकार आतंकवादी नहीं होते
  • सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द होने के बाद शहाबुद्दीन ने किया सरेंडरः टीवी...
  • शहाबुद्दीन फिर जाएगा जेल, सुप्रीम कोर्ट ने जमानत रद्द की
  • शराबबंदी पर पटना हाई कोर्ट ने नोटिफिकेशन रद्द कर संशोधन को गैरसंवैधानिक कहा
  • KOLKATA TEST: पहले दिन लंच तक टीम इंडिया का स्कोर 57/3, पुजारा-रहाणे क्रीज पर मौजूद
  • INDOSAN कार्यक्रम में पीएम मोदी ने NCC को स्वच्छता अवॉर्ड से सम्मानित किया
  • कोलकाता टेस्ट से पहले कीवी टीम को बड़ा झटका, इसके अलावा पढ़ें क्रिकेट और अन्य...
  • भविष्यफल: मेष राशि वालों के लिए आज है मांगलिक योग। आपकी राशि क्या कहती है जानने...
  • कल से शुरू हो रहे हैं नवरात्रि, आज ही कर लें ये तैयारियां
  • PoK में भारतीय सेना के ऑपरेशन में 38 आतंकी ढेर, पाक का 1 भारतीय सैनिक को पकड़ने का...

कोडरमा : दोस्तों ने मिलकर रची अपहरण की साजिश

कोडरमा।निज प्रतिनिधि First Published:23-09-2016 06:53:00 PMLast Updated:23-09-2016 06:56:29 PM

झुमरीतिलैया थाना क्षेत्र में सनसनीखेज अपहरण का मामला पुलिस ने उदभेदन किया है। 22 सितंबर की रात डॉक्टर गली निवासी बिनोद कुमार के पुत्र अमित जाह्नवी का अपहरण फिरौती के लिए कर लिया गया और पिता से 20 लाख रुपये की फिरौती मांगी गयी। चौंकाने वाली बात यह थी कि इस घटना को अंजाम देने में अमित के ही दोस्त और सहपाठियों का हाथ था।

सभी अपहरणकर्ता अपनी पढ़ाई कर रहे हैं और सबकी उम्र महज 17 से 18 साल के बीच की है। घटना को अंजाम उस वक्त दिया गया, जब शाम के लगभग सवा सात बजे अमित ट्यूशन पढ़ने जा रहा था। उसे फोटो दिखाने के बहाने बाइक पर बैठा लिया गया और उसे लेकर अपहरणकर्ता चरकीपहरी स्थित एक रेंट में लिए गए कमरे में ले गए और फिर शुरू हुआ उसके परिजनों से फिरौती मांगने का सिलसिला। लेकिन पुलिस भी सक्रिय थी। साइबर सेल के जरिए अपहरणकर्ताओं की मोबाइल की ट्रैकिंग की गई और दो अपहरणकर्ताओं राजकुमार और सौरव कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने पूछताछ में अपने अन्य साथियों अनिल वर्मा, आर्या अभिषेक, राजेश प्रसाद और सूरज यादव को गिरफ्तार किया गया और सकुशल अमित जाह्नवी को रिहा कर लिया गया।

एसपी के निर्देश पर टीम गठित

अमित के अपहरण की सूचना पाकर एसपी क्रांति कुमार के निर्देश पर एक टीम का गठन किया गया, जिसका नेतृत्व एसडीपीओ चंदेश्वर प्रसाद कर रहे थे। इसके अलावा तिलैया थाना प्रभारी महेंद्र सिंह और नरेश रजक शामिल थे। गठित टीम ने साइबर सेल की मदद से अपहरणकर्ताओं की फोन की ट्रैकिंग की और अपहरणकर्ताओं की पूरी टीम को धर दबोचा गया।

पुलिस ने बाइक व हथियार किया बरामद

तिलैया पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के पास से एक देसी पिस्तौल, एक 315 बोर की गोली, एक खोखा, एक चाकू, 7 मोबाइल, दो बाइक बरामद की गयी।

पूर्व से थी अपहरण की तैयारी

अमित के अपहरण की तैयारी अपहरणकर्ताओं ने पूर्व से कर रखी थी। इसके लिए चरकीपहरी में एक किराए का कमरा लिया गया था। यह कमरा तिलैया डैम ओपी निवासी बढ़न यादव और गणेश यादव का था, जिसे किराए पर लिया गया था। अपहरण के बाद अमित को उसी कमरे में रखा गया, जहां से पुलिस ने उसे बरामद किया। एसपी क्रांति कुमार ने बताया कि अमित को बाइक पर बिठाने के बाद उसे हथियार का भय दिखाकर कमरे में बंद कर दिया गया। उसके पिता से फिरौती की रकम पहले होटल शीतल छाया के पास लाने को कहा गया। बाद में फोन पर कहा गया कि वहां भीड़भाड़ ज्यादा है, इसलिए पीडब्ल्यूडी के पास बिजली के ट्रांसफार्मर के नीचे पैसे रख दें। वहीं से दो अपहरणकर्ताओं की गिरफ्तारी हुई और पूरे मामले का उदभेदन हुआ। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार हुए अपहरणकर्ताओं में राजेश प्रसाद पर पूर्व में भी एक मामला दर्ज है।

लाइव हिन्दुस्तान जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: friends hatched up by abduction in Koderma
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड