class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुमला में सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में निकाला मशाल जुलूस

गुमला में सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में निकाला मशाल जुलूस

सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ आहूत दो दिसंबर के झारखंड बंद की पूर्व संध्या पर गुरुवार को आदिवासी छात्र संघ और जेएमएम ने जिला मुख्यालय गुमला और विशुनपुर में मशाल जुलूस निकाला। वहीं बंद को सफल बनाने की अपील की।

जिला मुख्यालय में निकली मशाल जुलूस का नेतृत्व जेएमएम के पूर्व विधायक भूषण तिर्की कर रहे थे। वहीं विशुनपुर में संजय टाना भगत,जनार्दन भगत और अनिल असुर के नेतृत्व में जुलूस निकली। बंद समर्थक लोगों ने संशोधन पारित किये जाने के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

निषेधाज्ञा लागू : दो दिसंबर को बंद के मद्देनजर एसडीओ केके राजहंस ने धारा 144 लागू कर दिया है। इसमें बंद समर्थकों के एकत्रित होने, जुलूस निकालने आदि पर पाबंदी लगा दी है। इधर चैनपुर, डुमरी और विशुनपुर में भी मशाल जुलूस निकालकर आदिवासी संगठनों ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में मशाल जुलूस निकाला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Torch procession of tribal organizations in Gumla