Image Loading Torch procession of tribal organizations in Gumla - Hindustan
बुधवार, 29 मार्च, 2017 | 01:03 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • जरूर पढ़ें: दिनभर की 10 बड़ी रोचक खबरें
  • जम्मू और कश्मीरः पूरे राज्य में कल रेलवे सेवाएं निलंबित रखी जाएंगी
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • धर्म नक्षत्र: पढ़ें आस्था, नवरात्रि, ज्योतिष, वास्तु से जुड़ी 10 बड़ी खबरें
  • अमेरिका के व्हाइट हाउस में संदिग्ध बैग मिलाः मीडिया रिपोर्ट्स
  • फीफा ने लियोनल मैस्सी को मैच अधिकारी का अपमान करने पर अगले चार वर्ल्ड कप...
  • बॉलीवुड मसाला: अरबाज के सवाल पर मलाइका को आया गुस्सा, यहां पढ़ें, बॉलीवुड की 10...
  • बडगाम मुठभेड़: CRPF के 23 और राष्ट्रीय राइफल्स का एक जवान पत्थरबाजी के दौरान हुआ घाय
  • हिन्दुस्तान Jobs: बिहार इंडस्ट्रियल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी में हो रही हैं...
  • राज्यों की खबरें : पढ़ें, दिनभर की 10 प्रमुख खबरें
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े देश की अब तक की बड़ी खबरें
  • यूपी: लखनऊ सचिवालय के बापू भवन की पहली मंजिल में लगी आग।
  • पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी को हार्ट में तकलीफ के बाद लखनऊ के अस्पताल...

गुमला में सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में निकाला मशाल जुलूस

गुमला। संवाददाता First Published:01-12-2016 11:29:12 PMLast Updated:01-12-2016 11:35:03 PM
गुमला में सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में निकाला मशाल जुलूस

सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ आहूत दो दिसंबर के झारखंड बंद की पूर्व संध्या पर गुरुवार को आदिवासी छात्र संघ और जेएमएम ने जिला मुख्यालय गुमला और विशुनपुर में मशाल जुलूस निकाला। वहीं बंद को सफल बनाने की अपील की।

जिला मुख्यालय में निकली मशाल जुलूस का नेतृत्व जेएमएम के पूर्व विधायक भूषण तिर्की कर रहे थे। वहीं विशुनपुर में संजय टाना भगत,जनार्दन भगत और अनिल असुर के नेतृत्व में जुलूस निकली। बंद समर्थक लोगों ने संशोधन पारित किये जाने के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

निषेधाज्ञा लागू : दो दिसंबर को बंद के मद्देनजर एसडीओ केके राजहंस ने धारा 144 लागू कर दिया है। इसमें बंद समर्थकों के एकत्रित होने, जुलूस निकालने आदि पर पाबंदी लगा दी है। इधर चैनपुर, डुमरी और विशुनपुर में भी मशाल जुलूस निकालकर आदिवासी संगठनों ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट के संशोधन के विरोध में मशाल जुलूस निकाला।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Torch procession of tribal organizations in Gumla
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
संबंधित ख़बरें