Image Loading Today 35 thousand lawyers will not work in Court - Hindustan
बुधवार, 18 जनवरी, 2017 | 19:37 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • शेयर बाजार: सेंसेक्स 21.98 अंक बढ़कर 27,257.64 पर, निफ्टी 19 अंक बढ़कर 8,417 पर हुआ बंद।
  • अरुण जेटली बोले, कैबिनेट ने जनरल इंश्योरेंस की 5 सरकारी कंपनियों को स्टॉक...
  • पंजाब चुनावः कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने अमृतसर पूर्वी से पर्चा दाखिल...

राज्य के 35 हजार वकील दो दिसंबर को अदालती काम नहीं करेंगे

रांची। हिन्दुस्तान ब्यूरो First Published:01-12-2016 09:00:11 PMLast Updated:01-12-2016 09:11:09 PM

जमशेदपुर कोर्ट परिसर में गोलीकांड के खिलाफ राज्य के 35 हजार वकील दो दिसंबर को अदालती काम से विरत रहकर विरोध दिवस मनाएंगे। झारखंड राज्य बार काउंसिल की एक दिसंबर को आपात बैठक में इस आशय का निर्णय किया गया। बैठक में सभी अदालतों की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने की मांग की गई।

अधिवक्ताओं ने कहा कि अदालतों की सुरक्षा के प्रति पुलिस लापरवाह रहती है। इसका नतीजा जमशेदपुर गोलीकांड है। बैठक की अध्यक्षता बार काउंसिल के चेयरमैन राजीव रंजन ने की। बैठक में कहा गया कि सरकार अदालतों की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं है। इससे पूर्व भी जमशेदपुर, हजारीबाग समेत दूसरी अदालतों में गोली चली है, जिनमें मौतें भी हुई हैं, लेकिन सिविल कोर्ट की सुरक्षा के प्रति सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई। अगर इन घटनाओं से पुलिस ने सबक लिया होता, तो जमशेदपुर जैसा कांड नहीं होता। काउंसिल ने सरकार से सभी सिविल कोर्टों की पक्की चहारदीवारी और गेट लगाने की मांग की।

कोर्ट परिसर में प्रवेश करने वाले सभी वकीलों और अन्य लोगों के लिए पास की व्यवस्था करने की मांग की है। मुख्य गेट समेत अन्य प्रमुख जगहों पर वेब कैमरा लगाने, पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती और वकीलों के वाहनों के लिए बार संघों से गेट पास जारी करने को भी कहा गया।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Today 35 thousand lawyers will not work in Court
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड