class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुमला के तीन प्रखंडों को कैशलेस बनाने की प्रशासनिक तैयारी

गुमला के तीन प्रखंडों को कैशलेस बनाने की प्रशासनिक तैयारी

नोटबंदी के बाद कैशलेस ट्रांजेक्शन के लिए जारी बहस के बीच जिले में कैशलेस कारोबार की पहल की जा रही है। इस बाबत डीसी श्रवण साय, वाणिज्य कर आयुक्त रामदेव सिंह, एसपी चंदन झा के संयुक्त नेतृत्व में सभी अधिकारियों के साथ एक दिसंबर को बैठक आयोजित हुई। इसमें नोटबंदी के बाद कैशलेस ट्रांजेक्शन के बढ़ने का जिक्र करते हुए देश की अर्थव्यवस्था को पारदर्शी बनाने में इसके महत्व पर चर्चा हुई।

हालिया सरकारी निर्देश के आलोक में विभिन्न सरकारी और वाणिज्यिक लेन-देन के अलावा बाजार की आम खरीदारी में कैशलेस ट्रांजेक्शन को प्रोत्सहित किये जाने की बात हुई। इस क्रम में डीसी सभी बीडीओ को निर्देश देते हुए कहा कि अपने कार्य क्षेत्र के भीतर अधिकांश स्थानों पर प्वाइंट ऑफ सेल और स्वाईप मशीन लगाएं। यह मशीन कारोबारी बैंक से रेंट पर भी ले सकते हैं। आधारलिंक्ड इस पेमेंट डिवाइस के जरिये मौके पर ही ग्राहकों के समक्ष लेन -देन का ब्योरा प्रदर्शित हो जाएगा। कैशलेस ट्रांजेक्शन को लेकर अवेयरनेस मुहिम के तहत जिला प्रशासन द्वारा शुक्रवार से रायडीह भरनो और पालकोट प्रखंड में पायलट प्रोजेक्ट के तहत कैशलेस ट्रांजेक्शन अभियान की शुरुआत की जाएगी।

जिले के तमाम प्रखंडों में कैशलेस ट्रांजेक्शन अभियान को बढ़ावा देना का संकल्प जताते हुए डीसी ने अधिकारियों को बताया कि 25 दिसंबर से पहले कैशलेस अभियान को पूर्ण करने वाले बीडीओ सीएम से सम्मानित होंगे।

गुमला में कैशलेस व्यापार का उदघाटन आज :

सामान्य खरीद बिक्री के दौरान नकद लेनदेन के मौजूदा चलन की बजाये कैशलेस लेन-देन पर सरकार का विशेष जोर है। हर खरीद बिक्री को रिकार्ड में लाने और कैशलेस ट्रांजेक्शन के जरिये वाणिज्यिक गतिविधियों को सरल सहज और सुरक्षित बनाने के वास्ते सरकार और प्रशासनिक अमला की जागरुकता कैंपेन चला रहा है। इस कड़ी में चैंबर ऑफ कामर्स के प्रतिनिधियों के अलावा शहर के सामाजिक व्यापारिक छवि वाले गणमान्य लोगों के साथ डीसी ,एसपी और वाणिज्य कर आयुक्त ने संयुक्त बैठक की। मौके पर व्यापारियों ने कहा कि सर्विस टैक्स ज्यादा जिससे व्यापार पर असर पड़ेगा। कैशलेस ट्रांजेक्शन के चलन से जुड़े कई सवालों और भ्रम की बाबत व्यापारियों के आशंकाओं का निराकरण मौके पर मौजूद वाणिज्य कर आयुक्त द्वारा किया गया। वहीं डीसी ने कहा कि व्यापारियों के सहयोग के बिना इस अभियान को सफल बनाना संभव नही होगा। उन्होने कहा कि दो से 10 दिसंबर तक जिले में कैशलेस अभियान चलाया जायेगा। इसके तहत चैँबर ऑफ कॉमर्स और अन्य व्यापारियों को अभियान की सफलता का प्रण दिलाते हुए गुमला को आगे लाने की अपील की। जिले में ब्लॉक स्तर से प्रत्येक परिवार से एक बैंक खाता खोल कर उसे एक्टिव भी किया जा रहा है। इसी क्रम में गुमला में शुक्रवार को कैशलेस व्यापार का उदघाटन किया जायेगा। मौके पर अमित माहेश्वरी, हिमांशु केशरी, अजय विशकर्मा, अमित केशरी मनोज मालानी, जय गुप्ता समेत कई अन्य कारोबारी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The three blocks of Gumla preparation cashless