class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बंद के दौरान उपद्रव पर होगी सख्त कार्रवाई

बंद के दौरान उपद्रव पर होगी सख्त कार्रवाई

सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ दो दिसंबर को आदिवासी संगठनों द्वारा आहूत बंद से निबटने के लिए प्रशासन और पुलिस ने कमर कस ली है। एक दिसंबर की शाम उपायुक्त डॉ बीपी सिंह और पुलिस कप्तान कार्तिक एस की अध्यक्षता में समाहरणालय में अधिकारियों की बैठक हुई।

डीसी ने कहा कि बंद के दौरान किसी भी तरह का उपद्रव करनेवालों पर कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी। मौके पर ही उनसे निबटने की पूरी व्यवस्था की गई है। जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है। सभी चिन्हित और संवदेशनशील स्थान कैमरे की नजर में होंगे। सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे हैं, फोटोग्राफर-वीडियो ग्राफर भी मुस्तैद होंगे। दंडाधिकारियों और पुलिस बल को पर्याप्त संख्या में तैनात कर दिया गया है। बंद के दौरान अशांति फैलाने की कोशिश करने वालों की धर-पकड़ के लिए एहतियातन छापामारी की जा रही है। पुलिस ने वाटर कैनन, आंसू गैस, रबर बुलेट आदि के उपयोग का रिहर्सल कर रखा है, ताकि जरूरत पड़ने पर इनका उपयोग हो। एसपी कार्तिक एस ने कहा कि सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान करनेवाले नहीं बख्शे जाएंगे। उनपर कानूनी कार्रवाई तो होगी ही नुकसान की भरपाई भी उन्हीं को करनी होगी। बैठक में डीडीसी दानियल कंडुलना, एसी रंजीत कुमार सिन्हा, एसडीओ राज महेश्वरम के अलावा जिला और प्रखंड के तमाम अधिकारी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Strict action will be closed during the disturbance Strict action will be closed during the disturba