class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निजी विश्वविद्यालयों को भी लेनी होगी नैक से मान्यता

प्रदेश के सभी निजी विश्वविद्यालयों को नैक से मान्यता (एक्रीडेशन) लेनी होगी। राज्य सरकार ने इसके लिए 31 मार्च 2016 तक का समय दिया है। शिक्षा मंत्री ने बुधवार को प्रदेश के पांचों विश्वविद्यालय के कुलपतियों के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि सरकारी कॉलेजों को भी अनुदान पाने के लिए अगले साल से नैक से मान्यता लेना अनिवार्य होगा। उच्च एवं तकनीकी शिक्षा सचिव अजय कुमार सिंह ने कहा कि नैक से मान्यता की जानकारी के लिए विश्वविद्यालय स्तर पर कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। वार्षिक पुस्तिका होगी प्रकाशितअगले साल से नैक से मान्यता के लिए वार्षिक पुस्तिका प्रकाशित की जाएगी। इसमें नैक से मान्यता के लिए आवेदन और उसके पूरे स्टेट्स की जानकारी उपलब्ध होगी। उच्च शिक्षा गुणवत्ता एश्योरेंस सेल की स्थापना का प्रस्ताव कैबिनेट में रखा जाएगा। सेल में कर्मचारियों की भी नियुक्ति की जाएगी। बैठक में उच्च शिक्षा निदेशक, आरयू और विनोबा भावे यूनिवर्सिटी के कुलपति को छोड़कर सभी विश्वविद्यालय के कुलपति मौजूद थे। बैठक में झारखंड के नैक के इंचार्ज पी पुड्डू राज भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Private universities have to take accreditation from NAAC