class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीटी स्कैन चालू, एमसीआई को भेजा पत्र

एनएमसीएच प्रशासन ने पीजी की मान्यता दिलाने को लेकर एमसीआई द्वारा सीटी स्कैन पर उठाई गई आपत्ति के विरुद्ध एमसीआई को दो दिन पहले कम्प्लायंस पत्र भेजा है। कॉलेज प्रशासन द्वारा भेजे गए पत्र में सीटी स्कैन चालू हो जाने की बात कहकर मान्यता प्रदान के लिए आग्रह किया गया है। वहीं अस्पताल अधीक्षक डॉ. एपी सिंह ने भी सीटी स्कैन चालू होने का दावा किया।

वहीं जानकारों का कहना है कि मेदांता द्वारा स्थापित सीटी स्कैन मशीन में अभी ट्रॉयल के तौर पर मरीजों का सीटी स्कैन किया जा रहा है। जब तक रेडिएशन एसोसिएशन बोर्ड की औपचारिक निरीक्षण नहीं हो जाता है तब तक इसे पूर्ण रूप से चालू नहीं माना जाएगा। कॉलेज प्राचार्य डॉ. प्रो. शिवकुमारी प्रसाद ने बताया कि मेडिसिन विभाग, शिशु रोग विभाग व निश्चेतना विभाग में पीजी सीट की मान्यता के लिए एमसीआई कभी भी निरीक्षण करने आ सकती है। सीटी स्कैन चालू है। एमआरआई पर आपत्ति है। एजेंसी द्वारा मिले आश्वासन के अनुसार 15 जून तक एमआरआई भी लग जाएगा। हालांकि रूके हुए पीजी सीटों पर नामांकन जारी है। वहीं दूसरी ओर ऑडिटोरियम व व्यॉयज हॉस्टल भी पीजी सीट दिलाने में रोड़ा बन सकता है। ऑडिटोरियम पर भी एमसीआई ने बार-बार आपत्ति जता चुकी है। कॉलेज में एक हजार सीट वाले ऑडिटोरियम दो वर्ष पहले बन कर तैयार है। परंतु कॉलेज प्रशासन को अब तक हैंडओवर नहीं किए जाने पर यह समस्या आ सकती है। कॉलेज प्रशासन द्वारा बिजली द्वारा बिजली व अन्य इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं लगाने जाने के कारण हैंडओवर लेने को तैयार नहीं है। वहीं संवेदक राशि आवंटन की कमी बताकर बिजली व इंफ्रास्ट्रक्चर लगाने में अपनी समस्या बता रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news brief