class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

BSSC पेपर लीक: परमेश्वर ने एएनएम भर्ती में भी की धांधली

BSSC पेपर लीक: परमेश्वर ने एएनएम भर्ती में भी की धांधली

बीएसएससी पर्चा लीक प्रकरण में रिमांड पर आए परमेश्वर राम ने कई खुलासे किए हैं। पूर्व सचिव ने एएनएम बहाली में भी धांधली की बात स्वीकार की है। साथ ही दो और आईएएस अफसरों का नाम लेकर खलबली मचा दी है। 

दलाल के माध्यम से लिए पैसे : एएनएम बहाली में धांधली की बात स्वीकारते हुए परमेश्वर ने कहा है कि अभ्यर्थियों से आनंद कुमार नाम के दलाल के माध्यम से पैसे लिए थे। हालांकि जिसकी पैरवी की गई है, उनको कोई फायदा नहीं हो सका। कारण अभी रिजल्ट नहीं निकला है। पूर्व सचिव के जब्त मोबाइल में भी एएनएम बहाली से संबंधित मैसेज थे, जिसकी जांच की जा रही है। उन्होंने पर्चा लीक, एएनएम समेत अन्य धांधली में अध्यक्ष और आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार का हाथ होने की बात भी बताई है।

पुख्ता सबूत पर ही कार्रवाई : पूछताछ में परमेश्वर ने बताया कि दोनों आईएएस अक्सर निवर्तमान अध्यक्ष सुधीर कुमार से मिलते थे और पर्चा लीक की जानकारी उन्हें भी थी। दो अफसरों का नाम सामने आने के बाद एसआईटी सकते में है। पहले से इस प्रकरण में सुधीर कुमार के अलावा एक आईएएस अधिकारी के नाम आने की चर्चा थी। अब ये दोनों आईएएस भी एसआईटी की रडार पर होंगे जिनके बारे में पूर्व सचिव ने खुलासा किया है। 

हालांकि एसआईटी का कहना है कि किसी का नाम सामने आने के बाद तब तक उस पर नोटिस या आगे की कार्रवाई नहीं की जाएगी जब तक पुख्ता सबूत न हो। वहीं, आला अफसरों ने पमेश्वर के इस खुलासे और आईएएस अफसरों का नाम सामने आने की बात से इंकार किया है।

02 और आईएएस का नाम लिया परमेश्वर राम ने पूछताछ में
32 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं अबतक बीएसएससी पर्चा लीक प्रकरण में

सुधीर कुमार के परिजन से हुई पूछताछ 
खबर है कि बीएसएससी के पूर्व अध्यक्ष सुधीर कुमार के एक परिजन से एसआईटी ने गुप्त तरीके से पूछताछ की है। उसने कई और लोगों के नाम बताए हैं। एसआईटी उनकी तलाश में है। कयास लगाए जा रहे हैं कि काफी जल्द ही सुधीर कुमार रिमांड पर ले लिए जाएंगे। इसके बाद उनसे पूछताछ होगी। एसआईटी सूत्रों की मानें तो सुधीर कुमार से पूछताछ के लिए प्रश्नावली तैयार कर ली गई है। अगर सुधीर कुमार एसआईटी की मदद कर नए खुलासे करते हैं तो पर्चा लीक प्रकरण में नया मोड़ आ सकता है। 

आनंद बरार और प्रेस मालिक में होती थी बात 
परमेश्वर ने भी इस बात पर मुहर लगाई है कि आंसर शीट तैयार करने वाले आनंद बरार और प्र्रिंटग प्रेस मालिक के बीच बात होती थी। एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि इन दोनों के बीच बात होना गलत है। बात हुई इसका मतलब है कि दोनों पर्चा लीक में शामिल थे। 

सूद पर भी पैसा लगाते थे परमेश्वर 
धांधली और अन्य गड़बड़ियां कर परमेश्वर राम सूद पर पैसा लगाते थे। एसआईटी को ऐसी जानकारी मिली है। यह भी पता लगाया जा रहा है कि परमेश्वर राम ने कितनी जगहों पर अपनी संपत्ति बनाई है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bssc paper leak case accused parmeshwar ram also involve in anm rigging in bihar