Image Loading Maghad mahila college student presenting in terminal examination with their own paper - Hindustan
मंगलवार, 21 फरवरी, 2017 | 08:26 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-एनसीआर और रांची में रहेगी हल्की धूप, पटना-लखनऊ में हल्के बादल...
  • ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में विमान हादसा, कई लोगों के मरने की खबरः AFP
  • आज का भविष्यफल: सिंह राशि वालों को जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा, पूरी खबर पढ़ने के...
  • हेल्थ टिप्स: डायबिटीज में सुबह खाली पेट चबाएं लीची के पत्ते, नहीं पड़ेगी दवा की...
  • आज के हिन्दुस्तान का ई-पेपर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • GOOD MORNING: यूपी में आज चौथे चरण का चुनाव प्रचार होगा खत्म, कुरैशी की मदद करने वाले Ex CBI...

मगध महिला में खुद की कॉपी, ब्लैक बोर्ड पर सवाल

पटना। हिन्दुस्तान प्रतिनिधि First Published:19-10-2016 09:35:41 PMLast Updated:19-10-2016 09:40:17 PM

मगध महिला कॉलेज में इन दिनों स्नातक पार्ट-1, पार्ट-2 व पार्ट थर्ड की फर्स्ट टर्मिनल परीक्षा चल रही है। बुधवार को हिन्दुस्तान टीम ने परीक्षा हॉल का जायजा लिया तो चौंकाने वाले बात सामने आए। छात्राएं घर से खुद की कॉपी लाकर परीक्षा दे रही हैं। सवाल प्रश्न पत्र की बजाय ब्लैक बोर्ड पर लिखकर दिए जा रहे हैं। कॉलेज की ओर से कॉपी और प्रश्न पत्र नहीं दिए जाने के पीछे कॉलेज प्रशासन फंड की कमी का राग अलाप रहा है।

कॉलेज की प्राचार्या प्रो. आशा सिंह कहती हैं कि कॉलेज में फंड की कमी है। कॉलेज प्रशासन ने समय पर परीक्षा आयोजित करने के लिए यह कदम उठाया है। छात्राओं को घर से कॉपियां लाने को कहा गया है। कॉलेज कहां से पैसे लाएगा। इस मद में फंड दिए जाएंगे तो पहले की तरह व्यवस्था होगी।

कॉलेज के पास फंड नहीं

सरकार ने स्नातक और पीजी तक की छात्राओं की पढ़ाई नि:शुल्क कर दी है। इस फैसले के बाद मगध महिला कॉलेज ने सभी छात्राओं की फीस माफ कर दी गई है। उनका दाखिला ले लिया, लेकिन अब तक सरकार की ओर से कॉलेज को फंड जारी नहीं किया गया। पैसे की कमी से वजह से छात्राओं को घर से कॉपी लाने का निर्देश दिया गया है। सेंटअप टेस्ट के पहले ली जाने वाली इस परीक्षा में पिछले साल व्यवस्था दूसरी थी। कॉलेज प्रशासन का कहना है कि फंड की कमी से मजबूरी में इस व्यवस्था को अपनाया गया है।

घर की कॉपी पर कॉलेज की मुहर

बीकॉम के विभागाध्यक्ष डॉ. जनार्दन प्रसाद ने बताया कि छात्राओं से पहले ही कागज ले लिया गया है। बाद में कॉलेज ने उसे परीक्षा की कॉपियों की शक्ल दे दी। लगभग विभिन्न विभागों में ली जाने वाली परीक्षा का हाल ऐसा ही है।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: Maghad mahila college student presenting in terminal examination with their own paper
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड