class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर घर बिजली पर अगले माह से शुरू करें काम : मुख्य सचिव

मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने विद्युत कंपनियों के पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि इस माह के अंत तक बिजली के सर्वे का कार्य पूरा कर लें। नवंबर से हर घर बिजली देने के कार्य पर काम शुरू कर दें। मुख्य सचिव बुधवार को विद्युत कंपनियों के पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और विडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला पदाधिकारियों को इससे संबंधित निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य सरकार के सात निश्चय के तहत दो सालों के अंदर सूबे के हर घर में बिजली कनेक्शन देना है। इस कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने बिजली चोरी पर लगाम लगाने की बात कही। कहा कि राजस्व वसूली में तेजी लाएं। यह सुनिश्चत करें कि जितना बिजली खपत हो रही है, उसका सही बिल बने और उसकी वसूली हो। मुख्य सचिव ने बिजली बिल में हो रही गड़बड़ियों पर नाराजगी भी जताई। इसको जल्द दुरुस्त करने को कहा।

चोरी पर नहीं लग रहा लगाम : विदित हो कि राज्य में अब भी ऐसे कई फीडर हैं जहां से बिल वसूली का औसत शून्य है। चोरी पर लगाम नहीं लग पा रहा है। आकलन के अनुसार बमुश्किल 80 फीसदी लोगों को बिल मिल रहे हैं, जिसमें से 30 फीसदी गलत होते हैं। बिल भुगतान करने वालों का औसत इससे भी कम है। बिजली सप्लाई करने पर अभी 7.15 रुपए यूनिट खर्च हो रहे हैं, जबकि वसूली के बाद लगभग 1.70 रुपए प्रति यूनिट का गैप आ रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: each house electricity begin work next month : Chief Secretary