Image Loading karvachauth celebrated with joy at cyber city in ggn - Hindustan
मंगलवार, 24 जनवरी, 2017 | 10:35 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • आज के हिन्दुस्तान में पढ़ें एस श्रीनिवासन का विशेष लेख: तमिलनाडु में मुक्ति की...
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, रांची और देहरादून में हल्के बादल छाए रहने का...
  • आज के हिन्दुस्तान का ई-पेपर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आज का भविष्यफल: कर्क राशि वालों को भाइयों का सहयोग मिलेगा, अन्य राशियों का हाल...
  • हेल्थ टिप्स: हर दिन 10 मिनट निकालें अपने लिए और ऐसे हो जाएं दुरुस्त
  • GOOD MORNING: चुनाव आयोग ने सशर्त बजट पेश करने की मंजूरी दी, माल्या मामले में IDBI के पूर्व...

तस्वीरें: उल्लास के साथ साइबर सिटी में करवाचौथ का जश्न

गुड़गांव। मुख्य संवाददाता First Published:19-10-2016 09:29:33 PMLast Updated:19-10-2016 09:29:33 PM

बुधवार को परंपरा जब आधुनिकता के रंग में रंग करवाचौथ का व्रत उल्लास के साथ मना। 16 सिंगार कर सजी धजी महिलाओं ने सामूहिक रूप से पूजा अर्चना कर रात को चांद की रोशनी में पति को देख व्रत खोला। तमाम दम्पत्तियों ने पूजा अर्चना के पश्चात होटलों और रेस्टोरेंट कर रुख किया जहां उन्होंने पसंदीदा पकवान के बीच व्रत का पारण किया। 
करवा चौथ की कथा की परम्परा को निभाने के साथ यह त्यौहार बाजार और आधुनिकता के रंग में रंग गया है। यही वजह है कि इसकी स्वीकार्यता और बढ़ गई है। पतियों ने भी  व्यावहारिकता के स्तर पर एक-दूसरे के मुताबिक होने-ढलने की ढेरों कोशिशे की।

सबसे ज्यादा उत्साह नव दम्पत्तियों में दिखा, उसने साथ परिवार के सभी सदस्य भी उत्साहित थे क्योंकि पहली करवा चौथ थी। इसे अवसर को खास बनाने के लिए पति और पत्नी समेत परिवार के सदस्य भी कुछ नया करने की कोशिश में जुटे थे। शहर के बाजार, मंदिरों एवं रेस्टोरेंट होटल में बुधवार को नजारा अलग ही था। सेक्टर 14 निवासी सुमन की तबीयत खराब थी तो उनके इंजीनियर पति ने पूरे दिन करवाचौथ पर निर्जल उपवास किया। रात को चंद्रमा के दर्शन कर उनकी पत्नी ने पति के स्वस्थ और लंबी उम्र की कामना कर व्रत खोला। सुमन कहती है कि अब करवा चौथ कोई मजबूरी नहीं है बल्कि एक दूजे के प्रति प्यार के इजहार का तरीका भी है। तमाम दफ्तरों में भी महिलाएं सजी धजी काम पर आई थी। हालांकि उन्हें अवकाश लेने की सुविधा हासिल थी लेकिन पति-पत्नी दोनों कामकाजी हैं। ऐसे में घर में अकेले बैठना भी मुश्किल था, इसलिए महिलाएं काम पर आई। पार्क सेंट्रा में काम करने वाले सुजय कहते है कि पत्नी की हथेली पर मेहंदी सजे इससे मै भी खुश होता हूं। वह भी काम काजी है इसलिए वक्त ही कहां मिलता है। नए दौर की जरूरतों और मान्यताओं को आत्मसात कर करवा चौथ सरीखे त्यौहारों का स्वरूप बदलने के साथ लोकप्रियता भी हासिल कर रहा है।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: karvachauth celebrated with joy at cyber city in ggn
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड