class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आपबीती: 'कुछ पल को लगा जैसे लील जाएगी यह आग'

नोएडा, लाइव हिन्दुस्तान
आपबीती: 'कुछ पल को लगा जैसे लील जाएगी यह आग'

दिल्ली से सटे सेक्टर 11 एफ-55 स्थित सीएफएल बनाने वाली कंपनी एक्सल ग्रीन में बुधवार दोपहर 12:45 बजे शॉर्ट सर्किंट से आग लग गई। इस हादसे में छह लोगों की जान चली गई। हादसे में रस्सी की मदद से किसी तरह जान बचा सकीं अनीता बिंजोला ने आपबीती सुनाई। पढ़ें: 

'रोजाना की तरह हम सभी कर्मचारी ऑफिस की चौथी मंजिल पर काम कर रहे थे। लगभग पौने एक बज रहे होंगे, तभी एक युवक पेमेंट देने आया। उसने ही सर को बिल्डिंग से धुआं उठने की बात बताई। उन्होंने खिड़की से नीचे झांका तो धुएं को देखकर घबरा गए। वे भागते हुए हम लोगों के पास आए और बताया कि आग लग गई है।

आग के बारे में सुनते ही हम किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था। आग भी लगातार नीचे की मंजिल से ऊपरी मंजिल की तरफ बढ़ रही थी। ऑफिस में उस समय वही कोई चार से पांच लोग रहे होंगे। चूंकि आग नीचे की मंजिल से ऊपर की ओर बढ़ रही थी इसलिए नीचे की ओर न भागते हुए हम सभी खिड़की के पास आकर 'हेल्प-हेल्प' चिल्लाने लगे। 

आग लगने के कारण उठ रहे धुएं के बाद बिल्डिंग के चारों ओर काफी लोग इकट्ठा हो गए थे। मदद के लिए चिल्लाते देख उन्हीं में से किसी एक ने हमारी ओर रस्सी उछाली। रस्सी मिलते ही हम सभी उसको पकड़कर लटक गए और नीचे उतरने लगे। आग की लपटें इतनी तेज थी कि लगा कि आग से जलकर मरने से बेहतर है कि चौथी मंजिल से कूद जाऊं। काफी मुश्किलों का सामना करने के बाद हम सभी नीचे आ पाए।

हम लोग जब नीचे उतरे तो उसके बाद भी ऑफिस में कई लोग फंसे रहे। इसी दौरान एक युवक बिना किसी सहारे के नीचे कूद गया। उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई। बाद में उसने बताया कि पहले वह बाथरूम में छिप गया था लेकिन लिंटर गिरने की वजह से वह हड़बड़ी में नीचे गिर गया।'

VIDEO: नोएडा सेक्टर-11 की कंपनी में भीषण आग, छह जिंदा जले

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fire catches in office of noida sector 11