class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरब से एक भाई ने फोन पर तो दूसरे ने खत से दिया तलाक

अरब से एक भाई ने फोन पर तो दूसरे ने खत से दिया तलाक

तीन तलाक के एक मामले में लोनी की दो बहनें अदालत के चक्कर काट रही हैं। दोनों की शादी बागपत के दो भाइयों के साथ हुई थी। दोनों सऊदी अरब में नौकरी करते हैं। एक भाई ने छह पहले फोन पर पत्नी को तीन बार तलाक बोलकर पल्ला झाड़ लिया तो दूसरे भाई ने चार महीने पहले खत लिखकर तलाक दे दिया। इससे दोनों बहनें परेशान हैं और हर्जे-खर्चे के लिए अदालत से न्याय की उम्मीद लगाए बैठी हैं।

इमराना ने 10 अक्तूबर 2015 को थाने में दहेज उत्पीड़न, मारपीट और घर से निकलने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया था। इसमें पति जफर समेत देवर व ससुराल के अन्य सदस्य नामजद हैं। पुलिस ने मामले को महिला थाने में भेज दिया था। अभी यह मामला हल भी नहीं हुआ कि दूसरी बेटी मेहराना का मामला बिगड़ गया।

डॉक्टर पति ने अधिवक्ता पत्नी को व्हाट्सएप पर भेजा तीन बार तलाक

शुक्रवार को अदालत आए पिता सईद अहमद ने बताया कि बेटियों इमराना और मेहराना की शादी 9 जनवरी 2010 में एक ही घर में की थी। इमराना का शौहर जफर और मेहराना का शौहर दानिश सगे भाई हैं। उन्होंने बताया कि दोनों की शादी में क्षमता के मुताबिक दहेज भी दिया था, लेकिन ससुरालवाले इससे खुश नहीं थे और दहेज लाने के लिए प्रताड़ित किया जाता था। आरोप है कि पहले जफर और बाद में दानिश नौकरी के बहाने अरब चला गया और वहां से लौटे ही नहीं। 

सईद ने बताया कि दोनों बेटियों के एक-एक बेटा है। उन्होंने कहा कि जफर ने छह महीने पूर्व पत्नी इमराना को फोन करके तीन बार तलाक कहकर जिंदगी तबाह कर दी। अभी इस मामले को लेकर महिला थाने में शिकायत की तो वहां पहुंचे दामाद दानिश के पिता ने उसका भेजा एक खत दिखाया, जिसमें छोटी बेटी मेहराना के लिए तीन बार तलाक-तलाक-तलाक लिखा था। इसे देखकर उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: divorce given on phone from arab
From around the web