class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्य न्यायाधीश ने कहा, जजों की नियुक्ति युद्ध स्तर पर की जाएगी


मुख्य न्यायाधीश ने कहा, जजों की नियुक्ति युद्ध स्तर पर की जाएगी

मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जे.एस. खेहर ने कहा कि जजों की नियुक्ति को लेकर प्रक्रिया ज्ञापन (एमओपी) को कॉलेजियम ने पारित कर दिया है। अब हाईकोर्ट में जजों की नियुक्ति का काम युद्धस्तर पर होगा। 

मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि जजों के मौजूदा खाली पदों को भरने के बाद ही जजों की संख्या बढ़ाने पर विचार होगा। यह नहीं हो सकता कि हम रिक्तियों (400 से ज्यादा) को भर न पाएं और जजों के पद बढ़ाने की बात करें। जस्टिस खेहर की अध्यक्षता वाली तीन जजों की पीठ ने ये टिप्पणियां करते हुए इस बारे में दायर याचिकाओं का निपटारा कर दिया।

मैटरनिटी लीव बिल पास, अब गर्भवती महिलाओं को मिलेगी 26 हफ्ते की छुट्टी

कोर्ट ने रिक्तियों को भरने के सुझाव देने वाली याचिका को एक विशेष कमेटी को भेज दिया। यह कमेटी सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों को लेकर बनाई गई है। यह कमेटी निचली अदालतों में जजों की नियुक्तियों में तेजी से करने के लिए बनाई गई है। निचली अदालतों में 4000 से ज्यादा जजों की रिक्तयां हैं। 

मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि कमेटी शीघ्र ही हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीशों की बैठक बुलाएगी, जिसमें लंबित मुकदमों को तेजी से निपटाने के लिए मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। ये याचिकाएं पिछले वर्ष से सुप्रीम कोर्ट में लंबित थी। तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश जस्टिस टीएस ठाकुर ने कई बार केंद्र सरकार को इस पर फटाकर लगाई थी।

दागियों के चुनाव लड़ने और पार्टी बनाने पर लगे आजीवन प्रतिबंध: EC

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:judicial vacancies in hcs are being filled up on a war footing cji
From around the web