class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूट्यूब पर धमाल मचाने वाले हरियाणवीं भजन पर अब मचा बवाल

यूट्यूब पर धमाल मचाने वाले हरियाणवीं भजन पर अब मचा बवाल

हरियाणा के सरकारी स्कूल की छात्राओं द्वारा गाया चर्चित भजन बता मेरे यार सुदामा रे... विवादों में घिरता नजर आ रहा है। गिरावड़ गांव के स्थानीय भजन गायक कृष्णलाल ने दावा किया है कि यह भजन उन्होंने साल 1984 में लिखा था। इसकी ऑडियो कैसेट भी रिलीज हो चुकी है। इस भजन को एक पत्रिका में भी छापा जा चुका है। 

कृष्णलाल ने कहा है कि यह भजन उन्होंने काफी समय पहले लिखा गया था और भजन की आखिरी लाइनों में उन्होंने अपने फौजी भाई और उसके बाद अपना नाम कृष्ण शर्मा जोड़ा था। 

लेकिन जिन लड़कियों ने इस गाने को गाया है उसमें उनका और उनके भाई का नाम हटा दिया गया है। कृष्णलाल क कहना है कि उन्हें उन लड़कियों से कोई शिकायत नहीं है। बेटियों की वजह से ही आज यह भजन पूरे भारत में मशहूर हो गया है। लेकिन दुख इस बात का है की जिसने यह भजन लिखा उसका ही नाम हटा दिया गया।

गौरतलब है कि मेरे यार सुदामा रे... भजन सांघी गांव के सरकारी स्कूल की छात्रा 14 साल की विधि और उनकी कुछ दोस्तों के द्वारा गाया गया था। इसका म्यूजिक एमडीयू के रिसर्च स्कॉलर सोमेश जांगड़ा ने दिया था।

देखें वीडियो:

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:controversy on haryanvi bhajan mere yaar sudama re