Image Loading central government returns bill of delhi government which recommend 400 percent hike mla salary - Hindustan
गुरुवार, 23 फरवरी, 2017 | 10:29 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • यूपी चुनावः चौथे चरण में 53 सीटों के लिए सुबह नौ बजे तक 10.23% मतदान, पल-पल की अपेडट के...
  • शेयर मार्केटः मजबूती के साथ खुले बाजार, 48 अंकों की तेजी के साथ सेंसेक्स 28,912 पर,...
  • #IndiavsAustralia #PuneTest ऑस्ट्रेलिया का टॉस जीत बल्लेबाजी का फैसला
  • शोपियां में आतंकी हमला, सेना के 3 जवान शहीद, 1 महिला की भी मौत। पूरी खबर पढ़ने के...
  • आज के 'हिन्दुस्तान' में पढ़ें बिमटेक के डायरेक्टर हरिवंश चतुर्वेदी का लेखः...
  • दिल और दिमाग दोनों को ठंडा रखता है कद्दू, पढ़ें इससे होने वाले 6 फायदे
  • आज का हिन्दुस्तान अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें।
  • राशिफलः वृश्चिक राशिवालों के आत्मविश्वास में वृद्धि होगी, मित्र के सहयोग से...
  • यूपी चुनावः चौथे चरण में 53 सीटों पर मतदान शुरू, 680 उम्मीदवार आजमा रहे हैं किस्मत

दिल्ली सरकार को केंद्र से झटका,MLA का वेतन 400% बढ़ाने वाला बिल वापस

नई दिल्ली, लाइव हिन्दुस्तान टीम First Published:17-02-2017 02:42:51 PMLast Updated:17-02-2017 02:42:51 PM
दिल्ली सरकार को केंद्र से झटका,MLA  का वेतन 400% बढ़ाने वाला बिल वापस

दिल्ली की केजरीवाल सरकार को झटका लगा है। केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार के विधायकों की सैलरी से जुड़े एक विधेयक को वापस लौटा दिया है। इस बिल में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के विधायकों की सैलरी में 400 प्रतिशत बढ़ाने की मांग की थी। गृह मंत्रालय ने बिल वापस लौटाने का साथ इस मुद्दे पर दिल्ली सरकार से और जानकारी मांगी है।

केंद्र सरकार ने उपराज्यपाल के माध्यम से इस बिल को यह कहते हुए वापस भेज दिया है कि दिल्ली सरकार 'वैधानिक प्रक्रिया' के तहत इस बिल को दोबारा सही फॉर्मेट में भेजे। केंद्र ने पिछले साल अगस्त में दिल्ली सरकार से इस बिल के संदर्भ में कई सवाल किए थे। केंद्र ने दिल्ली सरकार से इतनी ज्यादा बढ़ोतरी का व्यवहारिक पक्ष जानना चाहा था।

'आप' की प्रतिक्रिया

वहीं इस पर प्रतिक्रिया देते हुए दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि देश में दो तरह की राजनीति के फार्मूले हैं। पहला, ईमानदारी से सेवा करो जो हमारे एमएलए कर रहे हैं और दूसरा है जो अभी तक होता आया है। हम इसलिए सैलरी बड़ा रहे हैं कि उनको अबतक 12 हजार रुपये ही मिलते हैं, जो नाकाफी है। अगर कांग्रेस, भाजपा और एमएचए के पास कोई फॉर्मूला है तो वो हमें बता दें।

क्या था प्रस्ताव

बता दें कि साल 2015 में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी की सरकार ने विधानसभा में विधायकों के वेतन वृद्धि का विधेयक पेश किया था, जो पास भी हो गया था। बिल के पास होते ही विधायकों की सैलरी में 400 फीसदी का इजाफा हो गया, लेकिन केंद्र की मंजूरी के इंतजार में लटका पड़ा है। इसमें विधायकों की सैलरी 88 हजार से बढ़ाकर 2 लाख 10 हजार रुपये करने का प्रस्ताव रखा था। इसके साथ विधायकों का यात्रा भत्ता भी 50,000 रुपये से बढ़ाकर तीन लाख सालाना करने का प्रावधान किया। इस बिल के अनुसार, दिल्ली के विधायकों को बेसिक सैलरी- 50,000, परिवहन भत्ता- 30,000, कम्यूनिकेशन भत्ता- 10,000 और सचिवालय भत्ते के रूप में 70,000 रुपये प्रति महीने का प्रावधान था।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: central government returns bill of delhi government which recommend 400 percent hike mla salary
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड