class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानवता शर्मसार: भाई के शव को साइकिल पर लेकर निकला युवक

मानवता शर्मसार: भाई के शव को साइकिल पर लेकर निकला युवक

ओडिशा में दाना मांझी अपनी पत्नी का शव कंधे पर ले जाने की घटना को अभी आठ महीने ही बीते थे कि असम में भी ऐसी ही एक घटना सामने आई है। बताया जा रहा है कि ताजा मामला असम के माजुली चुनाव क्षेत्र से हैं। माजुली असम के मुख्यमंत्री सीएम सर्वानंद सोनोवाल का चुनाव क्षेत्र है। यहां पर एक शख्स अपने 18 साल के भाई का शव साइकिल  पर बांधकर घर लाया। जैसे इस घटना को स्थानीय टीवी चैनलों ने दिखाया तो फुटेज देखकर मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने मामले की जांच के आदेश दे डाले। 


कार्रवाई: सोशल मीडिया पर खाने की शिकायत करने वाला BSF जवान बर्खास्त

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक युवक लखीमपुर जिले के बालिजान गांव का रहने वाला है। उसके भाई को सांस लेने में तकलीफ थी इसलिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल जिले से आठ किलोमीटर की दूरी पर है।  अस्पताल के अधिकारियों की मानें तो सोमवार को सुबह 3.30 बजे उसे अस्पताल में लाया गया। लेकिन इससे पहले कि डॉक्टर केस को डायग्नोस कर पाते उसकी मौत हो गई। युवक सांस की बीमारी से पीड़ित था। बताया जा रहा है कि गांव जाने का रास्ता खराब होने के कारण अस्पताल का कोई भी गाड़ी वाला उसे ले जाने के लिए तैयार नहीं हुआ। अधिकारियों के अनुसार मौत के बाद डॉक्टरों ने उसे गाड़ी देने का आदेश दिया था लेकिन परिवार ने उसके शव को साइकिल पर ले जाने का फैसला किया। हालांकि अभी परिवार से बात नहीं हो पाई है।

इस मामले में माजुली के डिप्टी कमिश्नर पीजी झा ने बताया कि युवक की मौत गारामुर सिविल अस्पताल में हुई है। उन्होंने यह भी जानकारी दी कि मृतक के गांव बालीजान में जाने के लिए ऐसी सड़क नहीं है जहां गाड़ी जा सके, यही नहीं इस गांव में जाने के लिए बांस के अस्थायी पुल से भी गुजरना होता है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:assam majuli a person carries his brother deadbody on cycle