Image Loading amarinder singh govt end vip culture in punjab - Hindustan
बुधवार, 29 मार्च, 2017 | 05:01 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • जरूर पढ़ें: दिनभर की 10 बड़ी रोचक खबरें
  • जम्मू और कश्मीरः पूरे राज्य में कल रेलवे सेवाएं निलंबित रखी जाएंगी
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • धर्म नक्षत्र: पढ़ें आस्था, नवरात्रि, ज्योतिष, वास्तु से जुड़ी 10 बड़ी खबरें
  • अमेरिका के व्हाइट हाउस में संदिग्ध बैग मिलाः मीडिया रिपोर्ट्स
  • फीफा ने लियोनल मैस्सी को मैच अधिकारी का अपमान करने पर अगले चार वर्ल्ड कप...
  • बॉलीवुड मसाला: अरबाज के सवाल पर मलाइका को आया गुस्सा, यहां पढ़ें, बॉलीवुड की 10...
  • बडगाम मुठभेड़: CRPF के 23 और राष्ट्रीय राइफल्स का एक जवान पत्थरबाजी के दौरान हुआ घाय
  • हिन्दुस्तान Jobs: बिहार इंडस्ट्रियल एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी में हो रही हैं...
  • राज्यों की खबरें : पढ़ें, दिनभर की 10 प्रमुख खबरें
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े देश की अब तक की बड़ी खबरें
  • यूपी: लखनऊ सचिवालय के बापू भवन की पहली मंजिल में लगी आग।
  • पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी को हार्ट में तकलीफ के बाद लखनऊ के अस्पताल...

पंजाब में खत्म किया गया VIP कल्चर, गाड़ियों पर नहीं लगेगी लालबत्ती

चंडीगढ़, हिटी  First Published:18-03-2017 09:10:17 PMLast Updated:18-03-2017 09:10:17 PM

पंजाब की नवगठित कांग्रेस सरकार ने शनिवार को मंत्रीमंडल की पहली बैठक में अहम फैसला लेते हुए प्रदेश से वीआईपी कल्चर खत्म कर दिया है। पंजाब देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां के विधायकों, मंत्रियों और मुख्यमंत्री ने सत्ता में आते ही सबसे पहला निर्णय अपनी गाड़ियों पर लगी बत्ती हटाने और सुरक्षा कर्मियों में कटौती करने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई पहली बैठक में फैसला लिया गया कि सभी विधायक, मंत्री, मुख्यमंत्री के अलावा सचिव, निदेशक स्तर के अधिकारी, पुलिस महानिदेशक, जिलों में तैनात एसपी, डीसी, एडीसी और एसडीएम अपनी गाड़ियों पर बत्ती नहीं लगाएंगे। सरकार ने यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया।

पटियाला घराने के कैप्टन अमरिंदर सिंह के सियासी सफर की एक झलक

तुरंत बत्तियां उतारी गईं 
पंजाब मंत्रीमंडल की बैठक समाप्त होने तक अधिकतर वीआईपी ने अपनी गाड़ियों पर लगी लाल, नीली और नारंगी बत्तियां भी उतार दी। 

शिलापट्ट में नाम नहीं 
बैठक में फैसला लिया गया कि पंजाब में अब कोई भी मंत्री, मुख्यमंत्री और विधायक न तो आधारशिलाओं पर अपना नाम लिखेगा और न ही उदघाटनी पत्थर रखे जाएंगे। अब केवल संबंधित प्रोजेक्ट का नाम लिखते हुए कहा जाएगा कि यह जनता द्वारा दिए गए करों की राशि से तैयार किया गया प्रोजेक्ट है।

आगे पढ़ें: संपत्ति का ब्योरा देंगे मंत्री-विधायक

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: amarinder singh govt end vip culture in punjab
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड