class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंजाब में खत्म किया गया VIP कल्चर, गाड़ियों पर नहीं लगेगी लालबत्ती

पंजाब में खत्म किया गया VIP कल्चर, गाड़ियों पर नहीं लगेगी लालबत्ती

1/2पंजाब में खत्म किया गया VIP कल्चर, गाड़ियों पर नहीं लगेगी लालबत्ती

पंजाब की नवगठित कांग्रेस सरकार ने शनिवार को मंत्रीमंडल की पहली बैठक में अहम फैसला लेते हुए प्रदेश से वीआईपी कल्चर खत्म कर दिया है। पंजाब देश का ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां के विधायकों, मंत्रियों और मुख्यमंत्री ने सत्ता में आते ही सबसे पहला निर्णय अपनी गाड़ियों पर लगी बत्ती हटाने और सुरक्षा कर्मियों में कटौती करने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई पहली बैठक में फैसला लिया गया कि सभी विधायक, मंत्री, मुख्यमंत्री के अलावा सचिव, निदेशक स्तर के अधिकारी, पुलिस महानिदेशक, जिलों में तैनात एसपी, डीसी, एडीसी और एसडीएम अपनी गाड़ियों पर बत्ती नहीं लगाएंगे। सरकार ने यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया।

पटियाला घराने के कैप्टन अमरिंदर सिंह के सियासी सफर की एक झलक

तुरंत बत्तियां उतारी गईं 
पंजाब मंत्रीमंडल की बैठक समाप्त होने तक अधिकतर वीआईपी ने अपनी गाड़ियों पर लगी लाल, नीली और नारंगी बत्तियां भी उतार दी। 

शिलापट्ट में नाम नहीं 
बैठक में फैसला लिया गया कि पंजाब में अब कोई भी मंत्री, मुख्यमंत्री और विधायक न तो आधारशिलाओं पर अपना नाम लिखेगा और न ही उदघाटनी पत्थर रखे जाएंगे। अब केवल संबंधित प्रोजेक्ट का नाम लिखते हुए कहा जाएगा कि यह जनता द्वारा दिए गए करों की राशि से तैयार किया गया प्रोजेक्ट है।

आगे पढ़ें: संपत्ति का ब्योरा देंगे मंत्री-विधायक

Next
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:amarinder singh govt end vip culture in punjab