class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झटकाः शशिकला एंड फैमिली अन्नाद्रमुक से बाहर

झटकाः शशिकला एंड फैमिली अन्नाद्रमुक से बाहर

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की मौत के अन्नाद्रमुक पर कब्जे को लेकर उनकी सहयोगी वीके शशिकला और पूर्व मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम के बीच चल रहे शह-मात के खेल का मंगलवार को पटाक्षेप हो गया। विधायकों ने शशिकला और उनके द्वारा नियुक्त पार्टी के उप महासचिव टीटीवी दिनाकरन को बाहर कर दिया। 

तमिलनाडु के मंत्री डी जयकुमार ने मंगलवार रात को मीडिया को बताया कि पार्टी ने शशिकला, दिनाकरन और उनके परिवार से सभी संबंधों को तोड़ दिया है। उन्होंने कहा, पार्टी का संचालन एक समिति करेगी। जयकुमार ने कहा, अम्मा (जयललिता) की मौत तक शशिकला पार्टी की प्राथमिक सदस्य भी नहीं थीं। बता दें कि पार्टी दो गुटों में बट गई थी। शशिकला के नेतृत्व में अन्नाद्रमुक (अम्मा)और पनीरसेल्वम के नेतृत्व में अन्नाद्रमुक (पुरुचीतलाइवी अम्मा) गुट का गठन हुआ था। दोनों गुटों ने चुनाव चिन्ह पर अपनी दावेदारी की थी, जिसकी वजह से चुनाव आयोग ने दो पत्ते के चिन्ह को जब्त कर लिया था। 

मैराथन बैठक में बनी सहमति 
दोनों गुटों को एक साथ लाने के लिए विधायकों और मंत्रियों के अलाव पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कई दौर की बैठक की। सोमवार रात को विधायकों ने बैठक की थी और दोनों गुटों को एकजुट करने के प्रयासों की जानकारी दी दी थी। मुख्यमंत्री पलानीसामी ने पनीरसेल्वम गुट से बात करने के लिए समिति गठित करने का ऐलान किया था। 

पनीरसेल्वम की जिद की जीत  
पनीरसेल्वम ने वार्ता में साफ कर दिया था कि शशिकला और उनके परिवार की अन्नाद्रमुक से विदाई के बाद ही कोई करार संभव है। उन्होंने कहा कि पार्टी संस्थापक एमजी रामचंद्रन और अम्मा का सिद्धांत था कि पार्टी पर किसी परिवार का कब्जा नहीं हो। ऐसे में शशिकला का पद पर रहना अम्मा के सिद्धांतों की अवहेलना है। 

आरके नगर की राह हुई आसान 
जयललिता के निधन से आरके नगर सीट खाली हुई है और अब उम्मीद की जा रही है कि अन्नाद्रमुक एकजुट होकर इस सीट पर विपक्षी द्रमुक का मुकाबला करेगी। चुनाव आयोग ने 12 अप्रैल को इस सीट पर मतदान की तारीख मुकरर की थी। लेकिन वोट के बदले पैसे देने के आरोपों के बाद मतदान टाल दिया गया। 

पनीरसेल्वम के बेटे और भाई को जमानत 
मद्रास हाईकोर्ट ने आरके नगर विधानसभा उपचुनाव के प्रचार से जुड़े दंगे के एक मामले में मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम के बेटे और भाई को अग्रिम जमानत दे दी। पनीरसेल्वम के बेटे ओ पी रविन्द्रनाथ कुमार और उनके चाचा ओ राजा ने इस संबंध में याचिका दायर की थी। जस्टिस एस भास्करन ने मामले की सुनवाई करते हुए जरूरत होने पर जांच अधिकारी के समक्ष उपस्थिति सुनिश्चित करने की शर्त पर अग्रिम जमानत मंजूर की। 

भगोड़ा माल्याः गिरफ्तारी के बाद मिली जमानत, भारत मजबूती से रखेगा पक्ष

सियासत से दूर विधायक पहुंचे जंगी जहाज पर
राजनीतिक मोर्चे पर चल रही गहमाल-गहमी के बीच तमिलनाडु के मंत्रियों और अन्नाद्रमुक के विधायकों ने मंगलवार को युद्धक जहाज आईएनएस चेन्नई पर समुद्र यात्रा का आनंद उठाया। समुद्र यात्रा का आयोजन नौसेना ने किया था। मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी द्वारा स्वदेश में डिजाइन किए गए गाइडेड मिसाइल डेस्ट्रॉयर आईएनएस चेन्नई शहर को औपचारिक रूप से समर्पित किया था। हालांकि, इस यात्रा में पलानीस्वामी ने हिस्सा नहीं लिया। 

फैसला: आठ राज्यों में 14 मई से हर रविवार बंद रहेंगे पेट्रोल पंप

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:aiadmk cold-shoulders sasikala and dinakaran merger of warring factions on the cards
From around the web