class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयुर्वेदिक दवा बनाने की आड़ में चल रही भांग फैक्ट्री का भंडाफोड़

आयुर्वेदिक दवा बनाने की आड़ में चल रही भांग फैक्ट्री का भंडाफोड़

मिठनपुरा के अमरूद बगान में गुरुवार को भांग के गोले बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ हुआ है। एक व्यवसायिक परिसर में आयुर्वेदिक दवा बनाने की आड़ में यह गोरखधंधा चल रहा था। उत्पाद विभाग ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर दो दर्जन से अधिक भांग के गोले के बोरे, पैकिंग मशीन समेत 50 लाख रुपये का माल जब्त किया है। फैक्ट्री में काम कर रहे मजदूर को टीम ने मौके से गिरफ्तार किया है। फैक्ट्री संचालक दिल्ली में रहकर धंधा चला रहा था। विभाग फैक्ट्री व उसके गोदाम को सील कर उसे सरकारी संपत्ति घोषित करने की अनुशंसा करेगी।

उत्पाद अधीक्षक कुमार अमित ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर उत्पाद निरीक्षक सौरभ कुमार के नेतृत्व में टीम ने धंधेबाज संजय साह की फैक्ट्री पर धावा बोला। परिसर में आयुर्वेदिक दवा की आड़ में भांग के गोले बनाने की फैक्ट्री पकड़ी गयी। इसके अलावा परिसर में बने तीसरे कमरे से भांग के गोले भी जब्त किये गये। मौके से एक मजदूर को भी गिरफ्तार किया गया। भांग के गोले को पाउच में पैक कर बोरों में रखा गया था। छापेमारी टीम में उत्पाद विभाग की दारोगा रश्मि आनंद, भिखारी कुमार, नीलकमल मिश्रा, रामेश्वर टूड्डू व सैप के जवान शामिल थे।

बयान::

मिठनपुरा इलाके से बीते तीन माह में दूसरी बार भांग फैक्ट्री का भंडाफोड़ हुआ है। भारी मात्रा में भांग के गोले भी मिले हैं। 50 लाख रुपये का माल भी जब्त किया गया है। फैक्ट्री मालिक फरार है। एक मजदूर को गिरफ्तार किया गया है। ऐसी कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। -कुमार अमित, उत्पाद अधीक्षक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ayurvedic medicine under the guise of making cannabis factory busted shells