class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागवत कथा श्रवण से बरसती है प्रभु की कृपा

फोटोकलश यात्रासिकंदरपुर रोड स्थित गोशाला में सात दिवसीय भागवत कथा शुरू हुई सीढ़ी घाट से निकली कलश यात्रा, वृंदावन के पंडितों ने कराया पूजनमुजफ्फरपुर। हिन्दुस्तान प्रतिनधिश्रीमदभागवत कथा सुनने से ही भगवान की कृपा बरसती है। प्रभु का सानिध्य सत्य बोलने से मिलता है। ये बातें वृंदावन से आये अर्जुनानंद महाराज ने गुरुवार को सिकंदरपुर रोड स्थित गोशाला में सात दिवसीय श्रीमभागवत कथा शुरू करते हुए कही। उन्होंने शुकदेव जी के जन्म की कथा सुनायी। उकहा कि कलयुग में लोग झूठ, अनीति व अहंकार की ओर ज्यादा अग्रसर हो रहे हैं। जबकि मनुष्य को सत्य, नीति व सरल भाव से जीवनयापन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सिर्फ कथा सुनने से पाप नहीं कटते। कथा के अनुसार काम भी करना चाहिए। इससे पहले, सिकंदरपुर सीढ़ी घाट से कलश यात्रा निकाली गयी। सिकंदरपुर, अखाड़ाघाट, सरैयागंज टावर होते हुए हुए गरीब स्थान मंदिर में पहुंची। यहां यात्रा में शामिल 121 बालिकाओं को पानी पिलाया गया। फिर कलश यात्रा वापस सिकंदरपुर गोशाला स्थित कथा स्थल पर पहुंची। यहां वृंदावन से आये पंडितों ने यजमान विजय चौधरी, संजीव कुमार सिंह, राजू शर्मा व देवनाथ को पूजा संपन्न करायी। मौके पर श्रीमदभागवत कथा सत्संग कमेटी के व्यवस्थापक पंडित संजय मिश्रा व अन्य सदस्य उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भागवत कथा श्रवण से बरसती है प्रभु की कृपा