class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्भनाल का रक्त रोकेगा आप पर बढ़ती उम्र का असर

गर्भनाल का रक्त रोकेगा आप पर बढ़ती उम्र का असर

एक शोध में दावा किया गया है कि जन्म के समय बच्चे की गर्भनाल का रक्त मस्तिष्क पर बढ़ती उम्र का प्रभाव नहीं पड़ने देता है। विशेषज्ञों का कहना है कि गर्भनाल में एक प्रोटीन होता है टिश्यू इनहिबिटर ऑफ मेटालोप्रोटिएसेस2 (टीआईएमपी2), जो हिप्पोकैंपस को प्रभावित करता है। 

यह मस्तिष्क का वह हिस्सा है जो बातें याद रखने में मदद करता है। गर्भनाल के स्टेम सेल के बारे में पहले हुए शोध में बताया जा चुका है कि यह शरीर के रक्त और रोग प्रतिरोधक तंत्र को मजबूत करता है और कई बीमारियों के इलाज में मददगार होता है।

कैलीफोर्निया स्थित स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं का कहना है कि गर्भनाल का रक्त उम्र से जुड़ी मानसिक समस्याओं से निजात दिलाने में कारगर हो सकता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि टीआईएमपी2 हमारे रक्त में मौजूद रहता है, मगर उम्र बढ़ने के साथ खून में इसकी मात्रा घटती जाती है। उनका कहना है कि यह प्रोटीन मस्तिष्क पर उम्र के प्रभाव के कारण होने वाली गंभीर बीमारियों के नए इलाज खोजने में मदद करेगा। 

शोधकर्ताओं का कहना है कि मस्तिष्क को याद रखने में मदद करने वाला हिस्सा हिप्पोकैंपस बढ़ती उम्र के प्रति संवेदनशील होता है। इस अध्ययन के लिए चूहों पर किए गए शोध के दौरान बुजुर्ग चूहों को युवा चूहों के रक्त का प्लाज्मा इंजेक्शन के जरिये दिया गया तो हिप्पोकैंपल क्षेत्र में उत्साहजनक सुधार देखने को मिला।
रोज व्यायाम से पहले चुकंदर का रस पिएं, दिमाग रहेगा जवान

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:umbilical cord blood will prevent your age