class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हावड़ा-दिल्ली रूट पर मिर्जापुर में कई रेलवे स्टेशनों का सिग्नल फेल

हावड़ा-दिल्ली मुख्य रेल मार्ग पर शुक्रवार की सुबह आठ बजे से मिर्जापुर और इलाहाबाद जिले के अप व डाउन में कई स्टेशनों का आटोमेटिक सिग्नल फेल हो गया। पौने तीन घंटे तक सिग्नल फेल होने से अप और डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन ठप रहा। ट्रेनों को जहां तहां रेलवे स्टेशनों पर रोका गया। उत्तर मध्य रेलवे के डीआरएम मुख्यालय इलाहाबाद को हुई सूचना पर सक्रिय हुए सिग्नल विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों ने सिग्नल को ठीक किया। इसके बाद ट्रेनों का परिचालन शुरू हो सका। एक साथ कई स्टेशनों का सिग्नल फेल होने को विभाग ने तकनीकी खराबी बताया।

सुबह आठ बजे से ग्यारह बजे के बीच मुंबई और दिल्ली रूट की कई महत्वपूर्ण ट्रेनों का परिचालन जिले के स्टेशनों से होता है। इसी बीच अचानक अप लाइन पर विंध्याचल, बिरोही, गैपुरा और जिगना रेलवे स्टेशन पर लगा आटोमेटिक सिग्नल काम करना बंद कर दिया। जिगना रेलवे स्टेशन के सहायक स्टेशन मास्टर राजेश रंजन के अनुसार इसी समय सियालदह नई दिल्ली दूरंतो राजधानी एक्सप्रेस जिगना रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी। स्टेशन के पश्चिमी ओर का सिग्नल न मिलने पर चालक ने ट्रेन को वहीं रोक दिया। बस क्या था उसके पीछे चल रही ट्रेनों संघमित्रा एक्सप्रेस को गैपुरा मे,मालगाड़ी को बिरोही में और मुंबई जनता एक्सप्रेस को विंध्याचल में रोका गया। ठीक यही हालत डाउन लाइन पर इलाहाबाद जिले के नैनी, करछना, मेजा, भीरपुर, मांडा और मिर्जापुर जिले के जिगना रेलवे स्टेशन का रहा। डाउन में जिगना स्टेशन के ठीक पहले पश्चिमी केबिन के पास मालगाड़ी रुकी रही। मांडा में पटना कोटा एक्सप्रेस, इसके पीछे ताप्ती गंगा एक्सपे्रस को रोका गया। सिग्नल में आयी खराबी की सूचना उत्तर मध्य रेलवे के मुख्यालय इलाहाबाद को दिए जाने के बाद ही सिग्नल विभाग के अधिकारी, कर्मचारी सक्रिय हो गए और उन्होंने पौने तीन घंटे के अंदर सभी खराब सिग्नल को ठीक करके परिचालन शुरू कर दिया। सबसे पहले ढाई घंटे बाद साढे दस बजे डाउन लाइन का सिग्नल ठीक करके परिचालन शुरू किया गया। इसके पंद्रह मिनट बाद पौने ग्यारह बजे अप लाइन का सिग्नल ठीक हो गया। जिससे ट्रेनों का परिचालन शुरू हो गया।

तकनीकी खराबी से एक साथ कई सिग्नल फेल

मिर्जापुर। हावड़ा- दिल्ली मुख्य रेल लाइन पर शुक्रवार की सुबह एक साथ कई स्टेशनों के बीच के आटोमेटिक सिग्नल फेल होने को सिग्लन विभाग तकनीकी खराबी मान रहा है। अधिकारियों का कहना था कि मामले की जांच की जा रही है कि ऐसा क्यों हुआ। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस सीजन में कोहरे पड़ने के कारण सिग्नल को करेंट मिलने में कहीं न कहीं से दिक्कत हुई होगी। इसलिए यह परेशानी आयी।

इलाहाबाद से मुगलसराय तक स्टेशनों पर रुकीं टेनें

मिर्जापुर। सिग्नल में आयी तकनीकी खराबी से इलाहाबाद से मुगलसराय के बीच सभी स्टेशनों पर ट्रेनों को रोका गया। इससे यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कोहरे के कारण पहले से विलंब से चल रही टे्रनों के यात्री अब तीन घंटे और विलंब से गंतव्य तक पहुंचेंगे। इसे लेकर यात्रियों में नाराजगी देखी गई। जिगना रेलवे स्टेशन पर राजधानी एक्सप्रेस के खड़े होने के बाद नीचे उतरे यात्रियों ने इसी तरह की खीज व्यक्त किया।

डेली आवागमन करने वाले यात्री भी परेशान

मिर्जापुर। मिर्जापुर से इलाहाबाद और इलाबाद से मिर्जापुर प्रति दिन ट्रेनों के सहारे डयूटी करने वाले यात्रियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मुगलसराया से इलाबाद तक के बीच पड़ने वाले सभी स्टशनों पर रोजमर्रा की यात्रा करने वाले यात्रियों की भीड़ रही। सिग्नल में आयी खराबी के कारण कुछ लोगों ने तो बसों से यात्रा की। जबकि अधिकांश लोग वापस हो गए। कुछ लोग ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के बाद यात्रा किए। जिससे वह देर से दफ्तरों तक पहुंचे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Howrah-Delhi route at several railway stations in Mirzapur signal failure