class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्चे की घर के अंदर कपड़े से गला घोटकर हत्या

घर में खेल रहे तीसरी कक्षा के बच्चे की संदिग्ध दशा में कपड़े से गला घोट कर हत्या कर दी गई। बच्चे के शव को कपड़ों के बीच में रख कर उपर से लोहे का सन्दूक रखा गया था। मां बाप ने जब अपने बच्चे का यह हाल देखा तो कोहराम मच गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नगर के मौहल्ला मिर्धापाड़ा में रहने वाला कुवंरसेन का बड़ा बेटा घर पर अकेला था। कुंवरसेन पत्नी कश्मीरी, छोटी बेटी और बेटे के साथ गन्दू की मंडैया के जंगल में मजदुरी करने के लिए गया था। देर शाम कुवंरसेन वापस घर लौटा तो उसका आठ वर्षीय बड़ा बेटा ललित घर पर नहीं मिला। वहीं मौहल्ले के लोगों ने बताया है कि ललित स्कूल से लौटने के बाद घर के बाहर खेलते हुए दिखाई दिया था लेकिन उसके बाद कई घंटो तक घर से बाहर नहीं दिखा। भयभीत माता-पिता ने आसपास काफी तलाश किया लेकिन ललित का कहीं कोई सुराग नहीं लगा। काफी देर के बाद परिजन घर के अंदर घुसे तो घर में घरेलू सामान खुर्द-बुर्द पड़ा हुआ मिला। इसी दौरान उलटे पड़े हुए एक लोहे का संदूक सीधा किया तो उसके नीचे कपड़ों से दबा हुआ ललित मिला। जिसके गले में कपड़े से फांसी का फंदा डला हुआ देख पति-पत्नी बेहोश होकर गिर गए।

वहीं मौहल्ले को लोंगो ने आरोप लगाया कि जो लोग घर में घुसे होंगे उन्हें ललित ने पहचान लिया। उन्होंने पहचान खत्म करने के मकसद से ललित के गले में कपड़ा डालकर हत्या कर दी और शव को कपड़ों के नीचे दबा दिया गया होगा। सूचना पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई। कार्यवाहक गढ़ कोतवाल सब इंस्पेक्टर हरिनंदन शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया है कि मासूम बच्चे के शव को कब्जे में ले लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:child killed by gagged with a cloth
From around the web