class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व पार्षद की मौत पर किन्नरों ने बोला अस्पताल पर धावा

पूर्व पार्षद की मौत पर  किन्नरों ने बोला अस्पताल पर धावा

हमलावरों की गोलियां लगने से घायल सपा के पूर्व पार्षद हाजी फाको ने गुरुवार सुबह दम तोड़ दिया। उनकी मौत के बाद आनंद अस्पताल के गेट पर लाश रखकर किन्नरों ने बवाल कर दिया। किन्नरों ने उपचार में लापरवाही और हाजी फाको को लगी एक गोली शरीर से नहीं निकालने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। तीमारदारों और स्टाफ को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। अस्पताल के शीशे और सामान तोड़ डाला और करीब एक घंटे अस्पताल पर कब्जा जमाए रखा।

श्यामनगर में डीके फैक्ट्री निवासी सपा के पूर्व पार्षद और किन्नर हाजी फाको को उनके ही घर में घुसकर 16 मई की दोपहर दो हथियारबंद हमलावरों ने गोलियां मार दी थी। हाजी फाको को पांच गोलियां मारी गईं। उपचार के दौरान गुरुवार सुबह हाजी फाको की आनंद अस्पताल में मौत हो गई। पोस्टमार्टम में पता चला कि फाको के शरीर में एक गोली अभी भी है। इसके बाद किन्नरों ने फाको के शव का जिला अस्पताल में एक्सरे कराया गया। किन्नरों का आरोप है कि एक्सरे में फाको के शरीर में एक गोली रह गई दिखाई दे रही थी। इसके बाद माहौल भड़क गया।

40 से 50 किन्नरों ने हाजी फाको के परिजनों और स्थानीय लोगों के साथ मिलकर लाठी-डंडों के साथ पहले जिला अस्पताल में बवाल किया और फिर शाम करीब छह बजे आनंद अस्पताल पर धावा बोल दिया। फाको की लाश अस्पताल गेट पर रख दी। तीमारदारों और स्टाफ को मारपीट कर दौड़ा लिया। सिक्योरिटी और गार्ड बीच में आए तो उन्हें बंधक बना लिया। अस्पताल में भगदड़ मच गई। पुलिस के साथ मारपीट की गई। कई थानों की फोर्स और पीएसी मौके पर पहुंची। अस्पताल प्रशासन की तहरीर पर चांदनी, काजल, सपना, बुल्ला, यामीन को नामजद करते हुए 60 से ज्यादा अज्ञात पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kiners attack on hospital after former councilor's death