class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

विशेष संवाददाता

विशेष संवाददाता-राज्य मुख्यालय

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जवाब के साथ ही विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई है। विधानमंडल के दोनों सदनों का पहला विशेष सत्र 15 मई को बुलाया गया था।

राज्यपाल के अभिभाषण को शालीनता से सुनेंगे

विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने भाजपा सदस्य पंकज सिंह द्वारा राज्यपाल के अपमान का मामला उठाने पर अपना फैसला देते हुए कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण को सदस्य शालीनता से सुनें, इसकी व्यवस्था वे सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने 15 मई को सदन में राज्यपाल पर अभिभाषण के समय कुछ सदस्यों ने कागज के गोले बनाकर फेंके। सीटियां बजाई गईं। अमर्यादित व अशोभनीय आचरण किया। शपथ का सम्मान नहीं किया। यह चिंतनीय है। इसकी भविष्य में पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए।

नेता विपक्ष की मान्यता मसला नियम समिति को सौंपा

राज्यपाल राम नाईक के संदेश के बाद विधानसभा अध्यक्ष ने नेता विपक्ष के रूप में राम गोविंद चौधरी को नए अध्यक्ष के चयन से पहले ही चुनाव हारे हुए अध्यक्ष द्वारा मान्यता देने के मामले को नियम समिति को सौंप दिया है। समिति जरूरी होगा तो विधि विशेषज्ञों की राय लेगी। राज्यपाल के एक अन्य संदेश के तहत अभिभाषण में लिखी गई किसानों को कर्ज माफी की सीमा तारीख 31 दिसंबर 2016 से बदलकर 31 मार्च 2016 का संशोधन प्रस्ताव स्वीकार कर लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:up assembly
From around the web