class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘उठो जवानों फिर से तुमको, भारत नया बनाना है

लखनऊ। निज संवाददाता

आदर्श श्री रामलीला समिति की ओर से त्रिवेणीनगर के मारूति पार्क में चल रही रामलीला के समापन के बाद बुधवार को कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। रामनरेश त्रिपाठी की अध्यक्षता व राम किशोर तिवारी के संचालन में चले कवि सम्मेलन में श्रोताओं ने खूब तालियां बजायी।

कवि सम्मेलन की शुरुआत रामेश्वर प्रसाद द्विवेदी प्रलयंकर ने ‘अंगद ने पांव रोप दी थी चुनौती बड़ी, सीता हारने की शर्त दूत ने लगाई थी करने बाद हास्य कवि जमुना प्रसाद पाण्डेय अबोध ने ‘अब रामै जानै का होई, या तो सैकिल वाला रोई, या तो हाथी वाला रोई पढ़ा तो खूब तालियां बटोरीं। आशाराम अवस्थी धीर ने पढ़ा ‘चन्दन है इस देश की माटी..., तो राम किशोर तिवारी ने ‘उठो जवानों फिर से तुमको, भारत नया बनाना है, जय स्वदेश जय वीर शिवाजी हर हर बम बम गाना हैसुनाई।

इसके अलावा मनु बाजपेई, अजय प्रधान,राज किशोर सिंह किशोर, दुष्यन्त शुक्ल सिंहनादी, डा. अशोक अज्ञानी ने कवि सुनाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:kavi smmmelan