Image Loading The governor met for equality rights - Hindustan
रविवार, 26 मार्च, 2017 | 20:30 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • बॉलीवुड मसाला: जब रवीना ने अपने को-स्टार को जड़ दिए तीन थप्पड़!, पढ़ें बॉलीवुड की 10...
  • हिन्दुस्तान Jobs: NALCO में हो रही हैं प्रोजेक्ट मैनेजर समेत कई पदों पर भर्तियां,...
  • CAG शक्तिकांत ने कहा डिमोनेटाइजेशन के असर को ऑडिट करेगा कैग
  • नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट के अलग-अलग तरीक़ों में काफ़ी वृद्धि देखने को...

समता के अधिकार के लिए राज्यपाल से मिले

निज संवाददाता First Published:19-10-2016 08:04:20 PMLast Updated:19-10-2016 08:10:27 PM

लखनऊ। लोकतंत्र मुक्ति आंदोलन के प्रतिनिधियों ने राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात की। उनसे मिलकर गुहार लगाई कि अन्य पार्टियों की तरह ही निर्दलीय प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न देकर उन्हें प्रचार का सही मौका दिया जाए। यह समता के अधिकार का हनन है। निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव प्रचार नहीं कर पा रहे हैं। जबकि दूसरी पार्टियों के नेता चुनाव चिन्ह के साथ जोरशोर से प्रचार में लगे हैं। जबकि अभी तक विधानसभा चुनाव की अधिसूचना भी नहीं जारी हुई है। अवसर की समता को लेकर संगठन की ओर से मुख्य चुनाव आयुक्त को 24 अगस्त, 2016 को पत्र भेजा जा चुका है। राज्यपाल से मिलने वालों में संगठन के प्रताप चंद्र, सौरभ जायसवाल, अजीत नारायण, अमित सचान, देवेश तिवारी, रोमिला शर्मा शामिल रहीं। राज्यपाल ने इन लोगों को आश्वस्त किया है कि वह इस संबंध में राष्ट्रपति को पत्र लिखेंगे।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: The governor met for equality rights
 
 
|
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड