class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बंदर की शवयात्रा में जुटा गांव, शोक में बाजार बंद

बंदर की शवयात्रा में जुटा गांव, शोक में बाजार बंद

नगर से सटे उम्मेदजोत गांव में करेंट की चपेट में आने से मरे लंगूर बंदर की शव यात्रा निकाल पूरे विधि-विधान से उसका अंतिम संस्कार किया गया। गांव के लोगों ने अनोखी मिसाल पेश करते हुए शोक में बाजार भी बंद रखी।

उम्मेदजोत गांव के मजरे कोरिनपुरवा में मंगलवार की देर शाम करेंट की चपेट में आकर एक लंगूर बंदर की मौत हो गई। लोगों ने इसे देखते ही मृतक बंदर को उठा कर चौपाल के चबूतरे पर रखा और सामूहिक निर्णय लेकर शव यात्रा निकालने का इंतजाम शुरू कर दिया। गाजे बाजे के साथ बंदर की शव यात्रा निकाली गई।

बना रहे पक्की समाधि : गांव के लोगो ने बंदर के अंत्येष्टि स्थल पर उसकी पक्की समाधि भी बना ली है। प्रधान की सूचना पर पहुंचे युवा सपा नेता सूरज सिंह ने समाधि स्थल के लिए आर्थिक सहायता भी प्रदान की। उन्होंने समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित की।प्रधान उमरु, कस्तूरी यादव, अयोध्या प्रसाद व अन्य मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Monkey in the funeral procession of the village gather, the market closed in mourning Monkey in the