class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्रिश्चियन कॉलेज और सेंटीनियल स्कूल के आमन्य10 शिक्षको की याचिकाए निरस्त

लखनऊ क्रिश्चियन कॉलेज (एलसीसी) और सेंटीनियल स्कूल में अवैधानिक रुप से नियुक्त 10 शिक्षकों की याचिका इलाहाबाद उच्च न्यायालय की खण्ड पीठ ने निरस्त कर दी है। इसके साथ ही स्थगन आदेश के सहारे चल रही शिक्षकों की सेवाएं समाप्त हो गई हैं। इनकी नियुक्त पूर्व प्रबन्धक एस डब्लू प्रसाद ने वर्ष 2014 में नियम विरूद्ध की थी।

पिछले दो वर्ष से लखनऊ क्रिश्चियन इण्टर कॉलेज और सेन्टीनियल हायर सेकेण्डरी स्कूल में 10 शिक्षकों की अनियमित एवं अवैधानिक नियुक्ति को लेकर विवाद चल रहा है। जेडी द्वारा सेवाएं समाप्त करने के बाद सभी 10 शिक्षकों ने उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्डपीठ में याचिका दाखिल कर स्थगन आदेश प्राप्त किया था, तब से अभी तक उक्त शिक्षकों को वेतन-भत्ते मिल रहे थे। बुधवार को कॉलेज के प्रबंधक प्रो.आरआर लायल ने पत्रकार वार्ता कर बताया कि 10 शिक्षकों ने 18 अक्तूबर को अपनी याचिकाएं वापस लेने का न्यायालय से अनुरोध किया। इस पर न्यायालय ने सभी याचिकाओं को निरस्त करते हुए स्थगन आदेश को समाप्त कर दिया। साथ शर्त लगा दी कि याचिकाकर्ता इस मामले में फिर से कोई नई याचिका दाखिल नहीं कर सकते हैं। इसी के साथ उक्त सभी शिक्षकों की सेवाए कॉलेज से समाप्त हो गई हैं।

---------------------------------------

शिक्षकों के नाम

प्रो.लायल ने बताया कि संजीव सिंह भौतिक विज्ञान एलएलसी, मुकुल रावत भौतिक विज्ञान एलएलसी, अभिषेक सिंह जीव विज्ञान एलएलसी ,धीरेन्द्र सिंह गणित एलएलसी, शिखर श्रीवास्तव गणित एलएलसी, युवराज पाठक वाणिज्य एलएलसी, फखरूल हसन चॉंद व्यायाम शिक्षक एलएलसी, व नीरज द्विवेदी सामान्य सेन्टीनियल हायर सेकेण्डरी स्कूल, राजेश कुमार सिंह कला सेन्टीनियल हायर सेकण्डरी स्कूल, राकेश कुमार गणित सेन्टीनियल हायर सेकेण्डरी स्कूल के शिक्षक थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Christian College and 10 teachers of the petition invalid centennial school canceled