शनिवार, 31 जनवरी, 2015 | 06:15 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
फतुहा में बिजली की तार की चपेट में ट्रॉली आई, दो की मौतअमिता को पीजीआई लखनऊ भेजा गया था महिला के खून का नमूना, जांच में स्वाइन फ्लू की पुष्टिबरेली में स्वाइन फ्लू से पहली मौत की पुष्टि, राममूर्ति मेडिकल कालेज में हुई थी 24 जनवरी को सीबीगंज की अमिता उपाध्याय की मौतपाकिस्तान के शिकारपुर में ब्लास्ट, 20 लोगों की मौतयूपी: लखीमपुर खीरी के मैगलंगज में युवक की हत्या, ट्रैक्टर ट्रॉली पर फेंक दिया शव, गला दबाकर हत्या का आरोपबरेली : इंडियन वैटेनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट (आईवीआरआई) और सेंट्रल एवियन रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीएआरआई) में रेबीज का कहर, आवारा कुत्तों के काटने से कई वैज्ञानिक रेबीज की चपेट में, मारे गए कुत्तों के पोस्टमार्टम में रेबीज की पुष्टि
पतवाड़ी के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट की रोक
First Published:08-01-13 11:19 PM

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गांव पतवाड़ी से जुड़े् इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है। उच्चतम न्यायालय ने यथास्थिति बनाए रखने की बात कहते हुए राज्य सरकार को नोटिस जारी किए हैं। ग्रेटर नोएडा वेस्ट में पतवाड़ी गांव में भूमि अधिग्रहण से जुड़े् विवाद पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने 21 अक्टूबर, 2011 को फैसला सुनाया था, जिसमें किसानों को 64 प्रतिशत अतिरिक्त मुआवजा और 10 प्रतिषत विकसित भूमि देने का आदेष ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को दिया था।

इस फैसले को चुनौती देते हुए पतवाड़ी गांव के 14 किसानों ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका दायर की थी, जिस पर सोमवार को जस्टिस आरएम लोढा की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यथा स्थिति का आदेश दिया है। न्यायालय ने प्रदेश सरकार और प्राधिकरण को जवाब देने के लिए नोटिस जारी किए हैं। इस प्रकरण पर प्राधिकरण और दूसरे किसानों ने भी याचिकाएं दायर कर रखी हैं। न्यायालय ने सभी मामलों को एक साथ सुनने की बात कही है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड